जोधपुर / दोनों बहनों से राखी बंधवाने विशेष रूप से जोधपुर आए केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री शेखावत



केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के राखी बांधती बड़ी बहन गिरिराज कंवर और सुनीता कंवर। केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के राखी बांधती बड़ी बहन गिरिराज कंवर और सुनीता कंवर।
शहीद के परिजनों से मिलते शेखावत। शहीद के परिजनों से मिलते शेखावत।
X
केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के राखी बांधती बड़ी बहन गिरिराज कंवर और सुनीता कंवर।केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के राखी बांधती बड़ी बहन गिरिराज कंवर और सुनीता कंवर।
शहीद के परिजनों से मिलते शेखावत।शहीद के परिजनों से मिलते शेखावत।

  • शहीदों के परिजनों से भी की मुलाकात

Dainik Bhaskar

Aug 16, 2019, 09:23 AM IST

जोधपुर.  केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत गुरुवार को अपनी बहनों से राखी बंधवाने के लिए विशेष रूप से थोड़ी देर के लिए जोधपुर आए। रक्षाबंधन के अवसर पर शेखावत  का निवास स्थान पर  बहनों ने तिलक लगा कर अभिनंदन किया। अपनी बहनों से राखी बंधवाने के बाद शेखावत कुछ शहीदों के परिवारों से मिलने गए। कुछ देर जोधपुर रुकने के बाद शेखावत सडक मार्ग से जयपुर होते हुए दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

 

भाजपा के संभाग मीडिया प्रमुख अचल सिंह मेड़तिया ने बताया कि रक्षाबंधन मनाने के लिए शेखावत थोड़ी देर के लिए जोधपुर आए थे। स्टेशन से अजीत कॉलोनी स्थित अपने निवास पर पहुंचे शेखावत का उनकी दोनों बहनें गिरिराज कंवर और सुनीता कंवर इंतजार कर रही थी। दोनों बहनों ने भाई गजेंद्र शेखावत ‌ उनकी पत्नी नौनंद कंवर के राखी बांधी और मिठाई खिलाकर नारियल भेंट किया। शेखावत ने दोनों बहनों से आशीर्वाद प्राप्त किया। इस मौके पर परिवार के सभी सदस्य मौजूद रहे रक्षाबंधन के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी की महिला मोर्चा की कार्यकर्ता भी निवास पर पहुंची और शेखावत के रक्षा सूत्र बांधने के बाद बधाई दी ।


इसके पश्चात केंद्रीय मंत्री शेखावत शहीद बाबूलाल विश्नोई के यहां पहुंचे और शहीद बाबूलाल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने शहीद की पत्नी एवं परिवार के अन्य लोगों से भी मुलाकात की। बाबूलाल बिश्नोई 22 अक्टूबर 1999 को करगिल में विशेष अभियान में शहीद हो गए थे । 
इसके साथ ही शेखावत 12 वीं बटालियन सीमा सुरक्षा बल में कॉन्स्टेबल रहे शहीद प्रदीप सिंह पटवाल के परिवार से मिले और शहीद के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। प्रदीप सिंह 30 मई 2002 को जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर में शहीद हो गए थे। शेखावत ने जोधपुर में पंचवटी कॉलोनी कॉलोनी स्थित महावीर चक्र विजेता एयर वाइस मार्शल चंदन सिंह के निवास पहुंचे और परिवार के सदस्यों से मिले। केंद्रीय शेखावत दोपहर बाद सडक मार्ग जयपुर होते हुए दिल्ली रवाना हो गए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना