• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • "कभी अलविदा ना कहना' और "मेरे दोस्त लौट के आजा' पर टीचर्स व स्टूडेंट्स ने किया परफॉर्म
--Advertisement--

"कभी अलविदा ना कहना' और "मेरे दोस्त लौट के आजा' पर टीचर्स व स्टूडेंट्स ने किया परफॉर्म

हनुवंत स्कूल के 1973-1983 के बैच की री-यूनियन बचपन से पचपन में स्टूडेंट्स व टीचर्स अपनी फैमिली के साथ बरसों बाद एक-दूसरे...

Dainik Bhaskar

Aug 03, 2018, 03:05 AM IST
हनुवंत स्कूल के 1973-1983 के बैच की री-यूनियन बचपन से पचपन में स्टूडेंट्स व टीचर्स अपनी फैमिली के साथ बरसों बाद एक-दूसरे से मिले। इसमें सफेद टी-शर्ट में पुरुष व लाल रंग के परिधान में महिलाएं पहुंची। इस दौरान टीचर्स ने जमकर मस्ती करते हुए "मेरे दोस्त लौट के आजा...', "कभी अलविदा ना कहना...', "एक मुलाकात जरूरी है जीने के लिए...' गायन कर प्रस्तुति दी। वहां बैठे स्टूडेंट्स ने जमकर हूटिंग कर टीचर्स का हौसला अफजाई किया। दूसरी ओर स्टूडेंट्स भी पीछे नहीं रहे। "अभी तो पार्टी शुरू हुई है...', "घूमर बाईसा...' और पंजाबी गीतों पर डांस पर प्रस्तुति देकर रंग जमा दिया। गेम्स विनर्स और अच्छे नंबर लाने वाले स्टूडेंट्स को सम्मानित कर गिफ्ट दिए गए।

संगीता, सुनील नागौरी

नर्मदा, रक्षिता

विनोद गर्ग, सुनीता

शिव कुमार सोनी, मंजू सोनी

पूजा, लड्‌डू

राजेश गर्ग, गितांशु, शैलेंद्र सक्सेना

लता राठी

दृष्टि राखी, आदित्या साबू

जोशना

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..