Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» रेलयात्रियों के लिए अच्छी खबर

रेलयात्रियों के लिए अच्छी खबर

जोधपुर | ठीक सवा साल पहले जोधपुर व सराय रोहिल्ला के बीच सप्ताह में दो दिन से प्रतिदिन की गई ट्रेन संख्या 22481/22482 में सफर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 08, 2018, 04:00 AM IST

  • रेलयात्रियों के लिए अच्छी खबर
    +1और स्लाइड देखें
    जोधपुर | ठीक सवा साल पहले जोधपुर व सराय रोहिल्ला के बीच सप्ताह में दो दिन से प्रतिदिन की गई ट्रेन संख्या 22481/22482 में सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। यह ट्रेन अब दिल्ली सराय रोहिल्ला से देरी से नहीं चलेगी। रेलवे ने इसे नियमित करने के लिए मगध एक्सप्रेस के रैक से लिंक किया था, जो 11 अगस्त से हटा दिया जाएगा। भास्कर ने गत वर्ष 3 मई को इसके फेरे बढ़ने के तीन दिन बाद ही बता दिया था कि मगध एक्सप्रेस जोधपुर की ट्रेन को समय पर नहीं चलने देगी। रेलवे ने अब सवा साल बाद अपना फैसला बदल लिया है। दरअसल गत वर्ष मई के पहले सप्ताह में डेगाना-रतनगढ़ के रास्ते जोधपुर से दिल्ली सराय रोहिल्ला चलने वाली इस ट्रेन को प्रतिदिन चलाने के लिए रेलमंत्री ने दिल्ली से तो केंद्रीय राज्यमंत्री सीआर चौधरी व जोधपुर सांसद (अब केंद्रीय राज्यमंत्री) गजेंद्रसिंह शेखावत ने जोधपुर स्टेशन पर झंडी दिखाकर पहला नियमित फेरा शुरू किया था। फेरे बढ़ाने के लिए इसे दिल्ली व इस्लामपुर के बीच चलने वाली मगध एक्सप्रेस से लिंक किया था, जो कभी समय पर नहीं चलती। उसने जोधपुर की ट्रेन को लेटलतीफी वाला बना दिया। यात्री रेलवे से शिकायत कर थक गए। शेखावत जब केंद्र में मंत्री बनने के बाद पहली बार जोधपुर आ रहे थे तो इसी ट्रेन में सवार हो गए। ट्रेन लेट थी। शेखावत ने उसी समय रेलमंत्री से बात की, आश्वासन मिला कि समय पर चलाएंगे। 10 माह बाद भी ऐसा नहीं हुआ। केंद्रीय राज्यमंत्री चौधरी ने मामला उठाया तो रेल मंत्रालय से आश्वासन ही मिला।

    मगध एक्स. के रैक से लिंक थी, उसके लेट आने से देरी से चलती थी, अब अलग रैक मिलेगा

    दिल्ली सराय रोहिल्ला एक्सप्रेस 11 अगस्त से समय पर चलेगी

    भास्कर ने ट्रेन शुरू होने के 3 दिन बाद ही बता दी थी परेशानी, रेलवे ने सवा साल बाद सुधारी

    19 मई को प्रकाशित।

    जोधपुर | ठीक सवा साल पहले जोधपुर व सराय रोहिल्ला के बीच सप्ताह में दो दिन से प्रतिदिन की गई ट्रेन संख्या 22481/22482 में सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। यह ट्रेन अब दिल्ली सराय रोहिल्ला से देरी से नहीं चलेगी। रेलवे ने इसे नियमित करने के लिए मगध एक्सप्रेस के रैक से लिंक किया था, जो 11 अगस्त से हटा दिया जाएगा। भास्कर ने गत वर्ष 3 मई को इसके फेरे बढ़ने के तीन दिन बाद ही बता दिया था कि मगध एक्सप्रेस जोधपुर की ट्रेन को समय पर नहीं चलने देगी। रेलवे ने अब सवा साल बाद अपना फैसला बदल लिया है। दरअसल गत वर्ष मई के पहले सप्ताह में डेगाना-रतनगढ़ के रास्ते जोधपुर से दिल्ली सराय रोहिल्ला चलने वाली इस ट्रेन को प्रतिदिन चलाने के लिए रेलमंत्री ने दिल्ली से तो केंद्रीय राज्यमंत्री सीआर चौधरी व जोधपुर सांसद (अब केंद्रीय राज्यमंत्री) गजेंद्रसिंह शेखावत ने जोधपुर स्टेशन पर झंडी दिखाकर पहला नियमित फेरा शुरू किया था। फेरे बढ़ाने के लिए इसे दिल्ली व इस्लामपुर के बीच चलने वाली मगध एक्सप्रेस से लिंक किया था, जो कभी समय पर नहीं चलती। उसने जोधपुर की ट्रेन को लेटलतीफी वाला बना दिया। यात्री रेलवे से शिकायत कर थक गए। शेखावत जब केंद्र में मंत्री बनने के बाद पहली बार जोधपुर आ रहे थे तो इसी ट्रेन में सवार हो गए। ट्रेन लेट थी। शेखावत ने उसी समय रेलमंत्री से बात की, आश्वासन मिला कि समय पर चलाएंगे। 10 माह बाद भी ऐसा नहीं हुआ। केंद्रीय राज्यमंत्री चौधरी ने मामला उठाया तो रेल मंत्रालय से आश्वासन ही मिला।

    26 सितंबर 2017 को प्रकाशित।

    जोधपुर | ठीक सवा साल पहले जोधपुर व सराय रोहिल्ला के बीच सप्ताह में दो दिन से प्रतिदिन की गई ट्रेन संख्या 22481/22482 में सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। यह ट्रेन अब दिल्ली सराय रोहिल्ला से देरी से नहीं चलेगी। रेलवे ने इसे नियमित करने के लिए मगध एक्सप्रेस के रैक से लिंक किया था, जो 11 अगस्त से हटा दिया जाएगा। भास्कर ने गत वर्ष 3 मई को इसके फेरे बढ़ने के तीन दिन बाद ही बता दिया था कि मगध एक्सप्रेस जोधपुर की ट्रेन को समय पर नहीं चलने देगी। रेलवे ने अब सवा साल बाद अपना फैसला बदल लिया है। दरअसल गत वर्ष मई के पहले सप्ताह में डेगाना-रतनगढ़ के रास्ते जोधपुर से दिल्ली सराय रोहिल्ला चलने वाली इस ट्रेन को प्रतिदिन चलाने के लिए रेलमंत्री ने दिल्ली से तो केंद्रीय राज्यमंत्री सीआर चौधरी व जोधपुर सांसद (अब केंद्रीय राज्यमंत्री) गजेंद्रसिंह शेखावत ने जोधपुर स्टेशन पर झंडी दिखाकर पहला नियमित फेरा शुरू किया था। फेरे बढ़ाने के लिए इसे दिल्ली व इस्लामपुर के बीच चलने वाली मगध एक्सप्रेस से लिंक किया था, जो कभी समय पर नहीं चलती। उसने जोधपुर की ट्रेन को लेटलतीफी वाला बना दिया। यात्री रेलवे से शिकायत कर थक गए। शेखावत जब केंद्र में मंत्री बनने के बाद पहली बार जोधपुर आ रहे थे तो इसी ट्रेन में सवार हो गए। ट्रेन लेट थी। शेखावत ने उसी समय रेलमंत्री से बात की, आश्वासन मिला कि समय पर चलाएंगे। 10 माह बाद भी ऐसा नहीं हुआ। केंद्रीय राज्यमंत्री चौधरी ने मामला उठाया तो रेल मंत्रालय से आश्वासन ही मिला।

    रेलवे बोर्ड के निर्देश के बाद भी 4 माह लगे

    यात्रियों व केंद्र के दो राज्यमंत्रियों की शिकायत रेलवे बोर्ड तक पहुंची तब बोर्ड ने जोधपुर की ट्रेन को मगध एक्सप्रेस से अलग करने की सैद्धांतिक स्वीकृति दी। गत मार्च में बोर्ड ने उत्तर-पश्चिम रेलवे व उत्तर रेलवे जोन को ट्रेन के लिए अलग-अलग रैक उपलब्ध करवाने के आदेश देते हुए दोनों ट्रेनों के अलग होने की तारीख घोषित करने को भी कहा था। इन दोनों जोन ने कवायद पूरी करने में 4 माह लगा दिए। उत्तर-पश्चिम रेलवे जोन की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि जोधपुर-सराय रोहिल्ला जोधपुर से 10 अगस्त से और वापसी में सराय रोहिल्ला से 11 अगस्त से अपने अलग रैक से संचालित होगी। अब या त्रियों को सराय रोहिल्ला स्टेशन पर देर रात तक 4-5 घंटे इस ट्रेन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

  • रेलयात्रियों के लिए अच्छी खबर
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×