• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • कवियों ने देशभक्ति आधारित शेर, नज्में, गजल व रुबाई से जजों और वकीलों का मन मोहा
--Advertisement--

कवियों ने देशभक्ति आधारित शेर, नज्में, गजल व रुबाई से जजों और वकीलों का मन मोहा

Jodhpur News - कवि सम्मेलन में देशभक्ति से ओतप्रोत रचनाओं ने श्रोताओं में जोश जगा दिया। एक शाम स्वतंत्रता सेनानियों के नाम...

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 04:50 AM IST
कवियों ने देशभक्ति आधारित शेर, नज्में, गजल व रुबाई से जजों और वकीलों का मन मोहा
कवि सम्मेलन में देशभक्ति से ओतप्रोत रचनाओं ने श्रोताओं में जोश जगा दिया।

एक शाम स्वतंत्रता सेनानियों के नाम कवि सम्मेलन आयोजित

जोधपुर| राजस्थान हाइकोर्ट लॉयर्स एसोसिएशन जोधपुर के तत्वावधान में शनिवार को कवि सम्मेलन “एक शाम स्वतंत्रता सेनानियों के नाम” का आयोजन किया गया। अंतरराष्ट्रीय शायर शीन काफ निजाम सहित अन्य शायर व कवियों ने शानदार प्रस्तुतियां पेश कर श्रोताओं का मन मोह लिया।

विख्यात शायर शीन काफ़ निज़ाम ने शेर, नज्में, गजल व रुबाई सुनाई और तरन्नुम में गजलें पढ़ीं। निजाम ने कल के अखबार में झूठी ही, एक तो अच्छी खबर रख दें, तू अकेला है बंद है कमरा, अब तो चेहरा उतार कर रख दें... शेर पेश कर खूब दाद बटोरी। निजाम ने रुबाई पेश करते हुए कहा, कि जब आन पे आते हैं तो डट जाते हैं, हटते नहीं मिट जाते हैं, कट जाते हैं, सौ हाथ निकलते हैं कुल्हाड़े लेकर, सौ जिस्म दरख्तों से लिपट जाते हैं। इस रुबाई ने जजों व वकीलों का मन मोह लिया। इश्राकुल इस्लाम माहिर, अफ़ज़ल जोधपुरी, डॉ. निसार राही, शीन मीम हनीफ, दिनेश जिंदल, पंकज अवस्थी व मधुर परिहार ने अपनी प्रस्तुति दी। राजस्थान हाईकोर्ट के न्यायाधीश संगीतराज लोढ़ा मुख्य अतिथि थे। राजस्थान हाइकोर्ट लॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनील जोशी ने अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर न्यायाधीश विजय बिश्नोई, अरुण भंसाली, निर्मलजीत कौर, जिला न्यायाधीश, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, न्यायिक अधिकारी, अतिरिक्त महाधिवक्ता कांतिलाल ठाकुर, श्याम सुंदर लदरेचा, पृथ्वीराज सिंह जोधा सहित अधिवक्ता मौजूद थे।

X
कवियों ने देशभक्ति आधारित शेर, नज्में, गजल व रुबाई से जजों और वकीलों का मन मोहा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..