जोधपुर

  • Home
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • बुजुर्गों ने भजन-श्लोक और लोक गीत सुनाए कैमरे में कैद की वन्यजीवों की अठखेलियां
--Advertisement--

बुजुर्गों ने भजन-श्लोक और लोक गीत सुनाए कैमरे में कैद की वन्यजीवों की अठखेलियां

आनंद गोठ के दौरान मोतीबा नगर स्थित साईं धाम में सीनियर सिटीजंस के दल ने मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद ग्रुप में फोटो...

Danik Bhaskar

Aug 06, 2018, 04:56 AM IST
आनंद गोठ के दौरान मोतीबा नगर स्थित साईं धाम में सीनियर सिटीजंस के दल ने मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद ग्रुप में फोटो खिंचवाया, जिसे बाद में फ्रेम करवा सभी को भेंट किया गया।

जोधपुर| गुलाबी देवी अपनी जिंदगी के अस्सी से ज्यादा बसंत देख चुकी हैं, लेकिन जब राम नाम का भजन सुनने काे मिल जाता है तो वे किसी युवा की तरह खुशी से झूम उठती हैं और तालियां बजा कर खुद भी गाते हुए भजन में मगन हो जाती हैं। माचिया पार्क में उन्होंने म्हारो छाेटो सो गोपाल चलावे गाडी सत्संग री... भजन से सबका मन मोह लिया। दैनिक भास्कर की ओर से सीनियर सिटीजंस के लिए आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम आनंद गोठ में रविवार काे मंडोर क्षेत्र के सीनियर सिटीजंस को शहर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण कर करवाया गया।

सुबह करीब दस बजे सर्किट हाउस से सभी सीनियर सिटीजंस हनुमान जी का जयकारा लगा बस से रवाना हुए और न्यू हाईकोर्ट परिसर पहुंचे। जहां उन्होंने नवनिर्मित भवन का स्ट्रक्चर बड़ी उत्सुकता से देखा। हाईकोर्ट से रवाना होकर वे मोतीबा नगर स्थित साईं धाम मंदिर पहुंचे जहां साईं बाबा के दर्शन किए और आरती में शामिल हुए। धाम में भरत अग्रवाल और परिवार ने सभी सीनियर सिटीजंस का स्वागत किया। फिर पाल बालाजी मंदिर में दर्शन किए। वहां से माचिया सफारी पार्क के लिए रवाना हुए। रास्ते में महिलाएं भजनों और लोक गीत गाते हुए सफर का आनंद ले रही थीं। माचिया सफारी पार्क पहुंचने पर वहां के वन अधिकारी अशोका राम पंवार ने पार्क के पेड़-पौधों और जीव-जंतुओं के बारे में सभी को जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जाेधपुर जैसे शहर में पहाड़ी क्षेत्र में वन्य जीवों के लिए पेड़-पौधे लगाना और उन्हें जंगलों जैसा माहौल देना चुनौतीपूर्ण था, लेकिन टीम की मेहनत और दृढ़ निश्चय से यह संभव हो सका, और आज कई प्रजातियों के जानवर और पक्षियों के लिए ये निवास स्थान है। इसी दौरान सीनियर सिटीजंस ने भी कई प्रस्तुतियां दीं। रेलवे से रिटायर्ड चतुर्भुज सोनी ने संताें की महिमा अनंत अपार...भजन की प्रस्तुति दी तो माणकचंद भाटी ने मनु स्मृति के कई श्लोक सुनाए। महिलाओं ने ग्रुप में सावन के लोक गीत भी प्रस्तुत किए। माचिया पार्क में भ्रमण के दौरान इन सीनियर सिटीजंस ने जानवरों की हलचलों को कैमरे में कैद भी किया। सीनियर सिटीजंस के इस सफर के समापन पर उन्हें यादगार के रूप में एक ग्रुप फोटो भेंट किया गया। इस मौके पर साईं धाम के भरत अग्रवाल ने आनंद गोठ को बुजुर्गों के लिए एक सकारात्मक आयोजन बताया।

माचिया सफारी पार्क में बुजुर्गों ने अपने ही साथियों की प्रस्तुति का आनंद लिया वहीं हाईकोर्ट के नए भवन का अवलोकन किया।

आनंद गोठ में ये सीनियर सिटीजंस हुए शामिल

मंगाराम-गोपी देवी, श्रवण सिंह-अरुणा देवी, भोपाल सिंह भाटी-सरोज भाटी, विमला भाटी-युधिष्ठिर भाटी, मंजूलता भाटी- सोमप्रकाश भाटी, ललिता भाटी-नंदकिशोर भाटी, लीला देवी-सोहनसिंह, लक्ष्मी नारायण-सुशीला देवी, माणकसिंह भाटी- शारदा भाटी, गोविंद राम टाक-मोहिनी देवी, माेहन सिंह-पपिया देवी, जीतमल-छोटू देवी, राजेंद्र कुमार-सोनू देवी, चंद्रकला टाक, पुष्पा टाक, उर्मिला टांक, विद्या परिहार, अरुणा परिहार, रामज्योति गहलोत, महेश कुमार, गुलाबी देवी, कौशल्या देवी, पुष्पा देवी, प्रेम देवी और प्रीतम सिंह आनंद गोठ में शामिल हुए।

Click to listen..