Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» आईएएस-प्री परीक्षा पास करते ही वैश्य समाज के बच्चों को मिलेगी एक लाख रु. की सहायता

आईएएस-प्री परीक्षा पास करते ही वैश्य समाज के बच्चों को मिलेगी एक लाख रु. की सहायता

कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर जोधपुर जिला वैश्य फेडरेशन के पहले स्थापना दिवस पर फेडरेशन ने रविवार को महावीर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 05:00 AM IST

आईएएस-प्री परीक्षा पास करते ही वैश्य समाज के बच्चों को मिलेगी एक लाख रु. की सहायता
कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर

जोधपुर जिला वैश्य फेडरेशन के पहले स्थापना दिवस पर फेडरेशन ने रविवार को महावीर कॉम्पलेक्स में सम्मान समारोह व संगोष्ठी आयोजित की। इसमें वरिष्ठजनों का सम्मान कर भविष्य की योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। समारोह में 85 साल से अधिक आयु के 26 दंपती और 39 बुजुर्गों को शॉल, स्मृति चिह्न व श्रीफल भेंट कर सम्मान किया गया। वहीं अंतरराष्ट्रीय वैश्य फेडरेशन के राष्ट्रीय महामंत्री बाबूराम गुप्ता ने बतौर मुख्य अतिथि कहा कि, वैश्य समाज के जो बच्चे आईएएस-प्री परीक्षा उत्तीर्ण कर रहे हैं, उन्हें दिल्ली में रहकर आगे की तैयारी करने के लिए एक-एक लाख रुपए की सहायता अंतरराष्ट्रीय वैश्य फेडरेशन की ओर से दी जा रही है, जिसका लाभ जोधपुर के होनहार स्टूडेंट्स भी ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि 2013 में फेडरेशन के गठन के बाद 138 बच्चों को लाभान्वित किया जा चुका है। समारोह में अभिषेक जैन को इस साल आईएएस-प्री पास करने पर एक लाख का चेक दिया गया। फेडरेशन के राजस्थान प्रदेश महामंत्री अरुण गुप्ता ने फेडरेशन के विभिन्न क्रिया-कलाप बताए। समारोह में अंतरराष्ट्रीय वैश्य फेडरेशन के संस्थापक सदस्य कोलकाता निवासी जगदीश मूंदड़ा, उत्तराखंड प्रदेश महामंत्री लच्छूराम, जोधपुर जिला महिला इकाई अध्यक्ष डॉ. फूलकौर मूंदड़ा सहित समाज के कई वरिष्ठ लोग उपस्थित थे। जिला महासचिव राजेंद्र राठी ने धन्यवाद भाषण दिया। संचालन जिला कार्यकारी अध्यक्ष रवि जैन ने किया।

समारोह में 85 साल से अधिक आयु के 26 दंपती और 39 बुजुर्गों को शॉल, स्मृति चिह्न और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

बुराइयां मिटाने और दिखावा न करने का आह्वान

फेडरेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनिल नाहटा ने समाज के लोगों से आह्वान किया कि वे सामाजिक बुराइयां मिटाने और दिखावा-प्रदर्शन न करने का संकल्प लें। राजस्थान लघु उद्योग विकास निगम के अध्यक्ष मेघराज लोहिया का कहना था कि वैश्य समाज से अन्य समाज प्रेरणा लेते हैं, यह समाज हमेशा हर कार्य में आगे रहा है इसलिए राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न क्षेत्रों में आदर्श स्थापित करने की जिम्मेदारी भी समाज के लोगों की ही है। समारोह में वैश्य फेडरेशन उत्तराखंड के प्रदेशाध्यक्ष सोहनलाल गुप्ता ने महात्मा गांधी और लाला लाजपतराय का उदाहरण देते हुए बताया कि वैश्य समाज के लोगों का स्वतंत्रता संग्राम में भी योगदान रहा है।

18 पर्सेंट आबादी को एकजुट करना है लक्ष्य

राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबूलाल गुप्ता ने कहा कि वैश्य समाज राजनीतिक क्षेत्र में इसलिए पिछड़ा है क्योंकि एकजुट नहीं है। उन्होंने कहा कि आगामी वर्षों में फेडरेशन का लक्ष्य देश भर की 18 पर्सेंट वैश्य आबादी को एकजुट करना है। आने वाले चुनावों में वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने पर भी फेडरेशन का जोर रहेगा। संयोजक एलएन जालानी ने अपने वक्तव्य में समाज के विभिन्न घटकों की एकता पर जोर दिया। वहीं जिला इकाई अध्यक्ष अनिल भंडारी, समारोह अध्यक्ष प्रसन्नचंद मेहता और शहर विधायक कैलाश भंसाली ने भी अपने उद्बोधन में समाज के सभी गोत्रों को एकजुट होकर कार्य करने की बात कही।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×