Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» खनन नहीं करने वाले 80 खानधारकों पर गिरेगी गाज, पट‌्टे होंगे खंडित

खनन नहीं करने वाले 80 खानधारकों पर गिरेगी गाज, पट‌्टे होंगे खंडित

खान आवंटित होने के बाद बरसों तक खनन कार्य नहीं करने वाले आवंटियों पर गाज गिरने वाली है। विभाग ने अब उन आवंटियों की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 10, 2018, 05:05 AM IST

खान आवंटित होने के बाद बरसों तक खनन कार्य नहीं करने वाले आवंटियों पर गाज गिरने वाली है। विभाग ने अब उन आवंटियों की सूची बनानी शुरू कर दी है और संभवत: कुछ ही दिनों में ऐसे 80 से अधिक खानधारकों के खनन पट्टे खंडित करने की कार्रवाई होगी। कारण कि इनके खनन कार्य नहीं करने से सरकार को राजस्व का नुकसान हो रहा है।

खान विभाग ने बरसों पहले कई खनन क्षेत्रों में आवंटियों को खनन कार्य करने के लिए खानें आवंटित की थीं। इनमें अधिकतर ने खनन कार्य शुरू कर दिया, लेकिन कुछ ऐसे खानधारक हैं, जिन्होंने वहां एक हथौड़ी तक नहीं चलवाई। विभाग की ओर से इन पर बरसों से कोई कार्रवाई नहीं की गई। अब विभाग ने गुपचुप रूप से एक रिपोर्ट तैयार करवाई है, जिसमें उन लोगों की सूची बनाई गई है, जो बरसों से खनन कार्य ही नहीं कर रहे हैं। संभवत: 80 से ज्यादा ऐसे खनन पट्टे हो सकते हैं, जिन्हें खंडित किया जाएगा। यह खानें दईजर, करवड़ सहित अनेक इलाकों में हैं।

ऑनलाइन सिस्टम से पकड़ में आई गड़बड़ी

पड़ताल में पता चला कि जब से खान विभाग की प्रक्रिया ऑनलाइन हुई है, कई गड़बड़ियां रुक सी गई हैं। यह धांधली भी ऑनलाइन सिस्टम में ही पकड़ में आई। कारण कि इन खान धारकों की ओर से रव्वना की कोई डिमांड नहीं की जा रही थी। ऐसे में पता चला कि बिना रव्वना के कैसे माल जा रहा है।

िवभाग को मिली गुप्त शिकायत के बाद शुरू हुई कार्रवाई

विभाग के पास शिकायत हुई थी कि जोधपुर के आसपास के खनन क्षेत्रों में ऐसे कई आवंटी हैं, जिन्होंने खनन कार्य प्रारंभ ही नहीं किया है और वे बिना खनन कार्य किए बैठे हैं। इस पर विभाग की ओर से खनन क्षेत्रों का निरीक्षण कर एक सूची तैयार की है।

रिपोर्ट के आधार पर तैयार प्रस्ताव डीएमजी को भिजवाया

खान विभाग की ओर से तैयार रिपोर्ट के आधार पर खनन पट्टे खंडित करने का प्रस्ताव डीएमजी के पास भिजवा दिया गया है। जहां से उचित मार्गदर्शन मिलते ही खनन पट्टों को खंडित करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

डीएमजी को प्रस्ताव भिजवाया है

नॉन वर्किंग खानों और नियमों की पालना नहीं करने वालों की खानों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रस्ताव डीएमजी के पास भिजवाया है। वहां से निर्देश मिलते ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। -श्रीकृष्ण शर्मा, माइनिंग इंजीनियर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×