Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» शिक्षकों का तबादला रुकवाने को अंध विद्यालय के बच्चों ने दिया धरना

शिक्षकों का तबादला रुकवाने को अंध विद्यालय के बच्चों ने दिया धरना

जोधपुर | माता का थान (आंगणवा) स्थित राजकीय अंध उच्च माध्यमिक विद्यालय के बच्चों ने बुधवार को चार घंटे धरना देकर अपनी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 09, 2018, 05:10 AM IST

शिक्षकों का तबादला रुकवाने को अंध विद्यालय के बच्चों ने दिया धरना
जोधपुर | माता का थान (आंगणवा) स्थित राजकीय अंध उच्च माध्यमिक विद्यालय के बच्चों ने बुधवार को चार घंटे धरना देकर अपनी स्कूल से तीन दिन पहले स्थानांतरित किए गए ब्रेललिपि के जानकार दोनों शिक्षकों का तबादला वापस अपनी स्कूल में ही करवा दिया। सुबह आठ से दोपहर बारह बजे तक चले इस आंदोलन में बच्चों ने स्कूल में आने वाले शिक्षकों को भी बाहर ही रोक दिया था। बच्चों ने दोनों शिक्षकों के पुन: यथावत रहने के आदेश की कॉपी नहीं आने तक धरना हटाने से इंकार कर दिया। प्रिंसीपल देवी बिजाणी ने इस धरने के बारे में एडीईओ ओमसिंह राजपुरोहित व डीईओ रामेश्वर जोशी को बताया। इस पर डीईओ माध्यमिक प्रथम ने एडीईओ को स्कूल भेजा, लेकिन बच्चों ने यह कहते हुए धरना हटाने से इंकार कर दिया कि जब तक उनके पास उनके गुरुजनों के तबादलों को निरस्त कर यथावत का आदेश नहीं आएगा, वे धरने पर बैठे रहेंगे और जरूरत पड़ी तो अनशन भी करेंगे।

राजकीय अंध विद्यालय के बाहर बच्चों ने 4 घंटे तक धरना देकर विरोध जताया।

वाट्सएप पर शिक्षकों को यथावत रखने के आदेश

डीईओ ने इस संबंध में निदेशालय से मार्गदर्शन मांगा तो माध्यमिक शिक्षा विभाग की संयुक्त निदेशक नूतनबाला कपिला ने तृतीय श्रेणी शिक्षक श्यामसुंदर का राउमावि थोब व लक्ष्मणसिंह राउमावि चावंडा़ में किए गए तबादले आदेश को निरस्त करते हुए यथावत करने के निर्देश दे दिए। इसकी पालना करते हुए डीईओ ने दोनों का यथावत आदेश कर दिया। इसके आदेश वाट्सऐप पर एडीईओ को भेजे। एडीइओ ने बच्चों से बात की और कहा कि शिक्षकों को वापस यथावत कर दिया गया है, लेकिन बच्चे नहीं माने। इसके बाद अभिभावक ललित सिंह ने यह आदेश पढ़कर बच्चों को सुनाया तो वे धरना हटाने से राजी हो गए। डीईओ माध्यमिक प्रथम जोशी ने बताया कि दोनों शिक्षकों को वापस यथावत कर दिया गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×