जोधपुर

  • Home
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • लोभ लालच से दूर रहें और श्रद्धा भाव से प्रभु सुमिरन करें : गाेविंदराम शास्त्री
--Advertisement--

लोभ लालच से दूर रहें और श्रद्धा भाव से प्रभु सुमिरन करें : गाेविंदराम शास्त्री

जोधपुर| गोविंदराम शास्त्री महाराज ने कहा, कि लोभ लालच से हमेशा दूर रहें और श्रद्धाभाव से प्रभु का सुमिरन करें। राम...

Danik Bhaskar

Aug 07, 2018, 05:10 AM IST
जोधपुर| गोविंदराम शास्त्री महाराज ने कहा, कि लोभ लालच से हमेशा दूर रहें और श्रद्धाभाव से प्रभु का सुमिरन करें। राम मोहल्ला स्थित रामद्वारा में खेड़ापा के वर्तमान आचार्य पुरुषोत्तमदास महाराज के सान्निध्य में आयोजित चातुर्मास सत्संग में शास्त्री ने शिव पुराण कथा सुनाते हुए शक्ति की महिमा बताई। उन्होंने कहा, कि पार्वती ने अनेक जन्म लिए पर जिज्ञासा के बना भगवान शिव ने उन्हें परम तत्व के बारे में नहीं बताया। अर्थात सत्संग और भजन साधना में जिज्ञासु बनना पड़ता है।

इस अवसर पर आचार्य पुरुषोत्तम दास महाराज ने कहा, कि निर्मल भाव से सत्संग एवं ईश्वर नाम का स्मरण आत्मा को शांति प्रदान करता है। चातुर्मास सत्संग सेवा समिति के अध्यक्ष कमलकिशोर चांडक ने बताया, कि चातुर्मास सत्संग आयोजन में प्रतिदिन योग, ध्यान, आसन और प्राणायाम सत्र भी आयोजित किया जा रहा है।

संतों ने साधकों को धर्म का मर्म बताया।

Click to listen..