• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो तो मनुष्य को अपना सौभाग्य समझना चाहिए : राधाकृष्ण महाराज
--Advertisement--

भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो तो मनुष्य को अपना सौभाग्य समझना चाहिए : राधाकृष्ण महाराज

Dainik Bhaskar

Aug 07, 2018, 05:15 AM IST

Jodhpur News - कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर गोवत्स राधाकृष्ण महाराज ने कहा, कि भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो ताे मनुष्य को...

भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो तो मनुष्य को अपना सौभाग्य समझना चाहिए : राधाकृष्ण महाराज
कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर

गोवत्स राधाकृष्ण महाराज ने कहा, कि भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो ताे मनुष्य को अपना सौभाग्य समझना चाहिए। उन्होंने कहा, कि रामजी की माया रामजी की सेवा में अर्पण करें। वे सोमवार को गांधी मैदान में भक्ति रस महोत्सव में जगन्नाथ कथा के छठे दिन साधकों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा, कि मनुष्य को जो भी प्राप्त होता है, वह परमात्मा का दिया हुआ है। उन्होेंने कहा, कि छोटे से छोटे व्यक्ति को मान देना, सम्मान देना भगवान जगन्नाथ का स्वभाव है। भक्ति का बीज कभी बदलता नहीं। हर परिस्थिति में साधक को समभाव से रहना चाहिए। दीन भाव से भगवान की शरण में जाने वाले भक्त भगवान को प्रिय होते हैं। संगीतमय जगन्नाथ कथा में कर्माबाई का प्रसंग सुनाते हुए राधाकृष्ण महाराज ने कहा, कि भक्तों के भाव से प्रसन्न होकर भगवान प्रकट हो गए। भक्ति का प्रभाव हमेशा अमर रहता है।

गांधी मैदान में चल रहे भक्ति रस महोत्सव में बाहर से आए कलाकार भी प्रस्तुति दे रहे हैं।

जगन्नाथ कथा की पूर्ण आरती आज, कल से नानी बाई रो मायरो कथा

जगन्नाथ कथा की मंगलवार को संतों के सान्निध्य में पूर्ण आरती होगी। बुधवार से भक्ति रस महोत्सव की शृंखला में नानी बाई रो मायरो कथा शुरू होगी। आयोजन दोपहर 1 से शाम 5 बजे तक होगा। शाम 7 बजे से राधा गोपाल महाप्रभु का श्रावण महोत्सव मनाया जाएगा और झूलों का मनोरथ होगा।

भगवान की लीला दिव्य होती है

सूरसागर बड़ा रामद्वारा के महंत रामप्रसाद महाराज ने कहा, कि भगवान की लीला दिव्य होती है। उन्होंने कहा, कि लीला का मर्म भक्तों को भगवत कृपा से ही प्राप्त होता है। भगवान की भक्ति करने और उसमें लीन रहने से भक्तों को मन की शांति मिलती है वहीं उनका कल्याण भी होता है।

X
भगवान की सेवा का अवसर प्राप्त हो तो मनुष्य को अपना सौभाग्य समझना चाहिए : राधाकृष्ण महाराज
Astrology

Recommended

Click to listen..