Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» कोच के तबादले के विरोध में मेडल-सर्टिफिकेट सड़क पर बिछाकर धरने पर बैठ गए स्टूडेंट्स

कोच के तबादले के विरोध में मेडल-सर्टिफिकेट सड़क पर बिछाकर धरने पर बैठ गए स्टूडेंट्स

उपनिदेशक माध्यमिक कार्यालय के बाहर सड़क पर मेडल रखकर अपना विरोध जताते महिलाबाग स्कूल के छात्र-छात्राएं।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 07, 2018, 05:16 AM IST

कोच के तबादले के विरोध में मेडल-सर्टिफिकेट सड़क पर बिछाकर धरने पर बैठ गए स्टूडेंट्स
उपनिदेशक माध्यमिक कार्यालय के बाहर सड़क पर मेडल रखकर अपना विरोध जताते महिलाबाग स्कूल के छात्र-छात्राएं।

उपनिदेशक माध्यमिक गुर्जर के खिलाफ नारेबाजी की

एजुकेशन रिपोर्टर | जोधपुर

सेपक तकरा के कोच व वरिष्ठ शारीरिक शिक्षक का तबादला राउमावि महिलाबाग से राउमावि डोली करने और इस स्थानांतरण से सेपक तकरा का प्रदेश का एकमात्र इंडोर स्टेडियम बंद होने से व्यथित स्टूडेंट्स और राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने सोमवार को उपनिदेशक माध्यमिक कार्यालय के बाहर सड़क पर अपने मेडल और सर्टिफिकेट बिछा दिए। फिर उपनिदेशक माध्यमिक बंशीधर गुर्जर के खिलाफ नारेबाजी की। इन खिलाड़ियों को सेपक तकरा इंडोर स्टेडियम में महिलाबाग स्कूल की कार्यवाहक प्रिंसिपल ने प्रवेश से रोक दिया था। इस मामले को लेकर खिलाड़ियों व स्टूडेंट्स ने स्कूल से छुट्टी लेकर उपनिदेशक कार्यालय पर धरना दिया और उन्हें ज्ञापन देकर इस खेल के राज्य के एकमात्र कोच राजेंद्र सिंह का तबादला पुन: इसी स्कूल में करने की मांग की। इसी सेंटर से तैयार हुए अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी सौरभ व रोहित का कहना है कि उन्हें अपने कोच और इस सेंटर की बदौलत न केवल देश बल्कि विदेशों में पहचान मिली है और अब इस कोच के ट्रांसफर से उनके खेल पर सीधा असर पड़ेगा। इस दौरान राष्ट्रीय खिलाड़ी अंजु राठौड़, मुक्ता जोटवानी, लोकेश सैन, कपिल शर्मा, चंचल, कृष्णा, पूजा, हरीश, भावेश शर्मा, कबीर, आर्यन आचार्य, अक्षय, यश गुर्जर ने बताया कि इस सेंटर पर स्कूल के अलावा प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले खिलाड़ी भी प्रैक्टिस करने आते हैं। वहीं ज्ञापन लेने के बाद उपनिदेशक बंशीधर गुर्जर ने बच्चों को भरोसा दिया कि विभाग जल्द उचित कार्रवाई करेगा, ताकि उनके खेल में फायदा हो सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×