Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» हल्के में ना लें बार-बार आंखों का लाल हो जाना

हल्के में ना लें बार-बार आंखों का लाल हो जाना

कंजक्टिवाइटिस, आमतौर पर पिंक आई के नाम से जानी जाने वाली आंखों की एक सामान्य बीमारी है जो बच्चों और बड़ों दोनों में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 07, 2018, 05:25 AM IST

हल्के में ना लें बार-बार आंखों का लाल हो जाना
कंजक्टिवाइटिस, आमतौर पर पिंक आई के नाम से जानी जाने वाली आंखों की एक सामान्य बीमारी है जो बच्चों और बड़ों दोनों में हो सकती है। आंखों के सफेद हिस्से काे कवर करने के लिए एक झिल्ली होती है कंजक्टाइवा, जिसमें इंफेक्शन हो जाने को ही कंजक्टिवाइटिस कहा जाता है। कंजक्टाइवा में मौजूद रक्त कणिकाओं में इस इंफेक्शन की वजह से वे ज्यादा विजिबल होने लगती है और आंखों का रंग लाल दिखने लगता है। इसके साथ-साथ कई बार स्वैलिंग आ जाती है, इरिटेशन महसूस होने लगता है और बार-बार पानी आने लगता है। जब भी ऐसे लक्षण दिखें ताे आंखों को रगड़ें नहीं। सफाई का ध्यान रखें और गंदे हाथ आंखों पर ना लगाएं। यह भी ध्यान रखा जाना चाहिए कि दिन में दो बार से ज्यादा आंखाें को ना धोएं। ऐसी समस्या होने पर एक बार आई स्पेशलिस्ट की सलाह जरूर लें क्योेंकि कई बार इसे अनदेखा कर दिया जाता है और बाद में यह समस्या गंभीर बीमारी का रूप ले लेती है। मसलन कंजक्टाइवा अगर कॉर्निया पर चढ़ जाए तो आंखों की रोशनी तक जाने का खतरा रहता है। हवा में मौजूद बैक्टीरिया की वजह से आंखों में इस इंफेक्शन के होने की संभावना रहती है। इसके अतिरिक्त आंखों को किसी खास चीज से एलर्जी हो तो भी ये बीमारी हो सकती है। इसलिए एलर्जेटिक चीजों से दूर रहना चाहिए और बाहर निकलते वक्त सन ग्लासेज पहनने चाहिए। इससे बचने के लिए डाइट में हरी सब्जियों और फ्रूट्स का नियमित सेवन किया जाना चाहिए और जंक फूड से बचना चाहिए।

हेल्थ

डॉ. अरविंद मौर्य

आई स्पेशलिस्ट, एम्स, जोधपुर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×