• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • कॉनकोर ने 1500 रु. कंटेनर भाड़ा बढ़ाया, निर्यातक विरोध में उतरे
--Advertisement--

कॉनकोर ने 1500 रु. कंटेनर भाड़ा बढ़ाया, निर्यातक विरोध में उतरे

कॉनकोर के इनलैंड कंटेनर डिपो से रेल मार्ग से गुजरात के मुंद्रा पोर्ट तक जाने वाले निर्यात कंटेनरों के माल भाड़े...

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 05:25 AM IST
कॉनकोर के इनलैंड कंटेनर डिपो से रेल मार्ग से गुजरात के मुंद्रा पोर्ट तक जाने वाले निर्यात कंटेनरों के माल भाड़े में 1500 रुपए का इजाफा किया गया है। इसका यहां के निर्यातकों ने विरोध दर्ज करवाया है। रेलवे के अधीन कॉनकोर ने हाल में आदेश जारी कर पब्लिक टैरिफ में डॉक्यूमेंटेशन एंड सर्वे डाटा एंट्रीज, इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपमेंट के नाम पर 1500 रुपए का इजाफा किया है।

जोधपुर हैंडीक्राफ्ट्स एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डाॅ. भरत दिनेश ने बताया कि इस समय जोधपुर का हैंडीक्राफ्ट उद्योग जीएसटी व विश्वव्यापी मंदी की दोहरी मार झेल रहा है, जिसके चलते निर्यात ग्राफ में भी गिरावट आई है। इस समय निर्यातकों को सरकार की ओर से प्रोत्साहन की जरूरत है। उन्होंने बताया कि वित्त मंत्रालय, कस्टम्स, नीति आयोग व अन्य सरकारी एजेंसियां निर्यात को बढ़ावा देने के हरसंभव प्रयास कर रही है, लेकिन कॉनकोर द्वारा प्रति कंटेनर भाड़े में इजाफा करने से यहां के निर्यातकों पर और भार बढ़ेगा। जोधपुर से निर्यात होने वाले कंटेनरों में हैंडीक्राफ्ट के कंटेनरों की संख्या सर्वाधिक है एवं कॉनकोर से भी हैंडीक्राफ्ट के प्रतिवर्ष करीब 10 हजार कंटेनर्स समुद्री बंदरगाह तक जाते हैं। इस मूल्यवृद्धि से निर्यातकों पर अतिरिक्त भार बढ़ा है। इसके अलावा ग्वारगम, टेक्सटाइल व अन्य उद्योगों के भी कंटेनर यहां से रवाना होते हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..