राजस्थान / प्रेमी युगल एक-दूसरे के सामने खड़े हुए, फिर पिस्टल से गोली मारकर दोनों ने की आत्महत्या

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 10:28 AM IST



बाड़मेर के लीलसर गांव में प्रेमी युगल के शव। बाड़मेर के लीलसर गांव में प्रेमी युगल के शव।
X
बाड़मेर के लीलसर गांव में प्रेमी युगल के शव।बाड़मेर के लीलसर गांव में प्रेमी युगल के शव।

  • आत्महत्या से पहले दोनों ने देशी पिस्टल के साथ सोशल मीडिया पर फोटो पोस्ट की
  • राजस्थान के सरहदी जिले बाड़मेर के लीलसर गांव की घटना

बाड़मेर. आत्महत्या के मामलों में बाड़मेर जिला प्रदेश में पहले स्थान पर है, यहां आत्महत्या की घटना कोई नई बात नहीं है, लेकिन गुरुवार को एक प्रेमी जोड़े के आत्महत्या करने का ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है, जाे बाड़मेर में पहली बार हुआ है। घटना बाड़मेर जिले के लीलसर गांव की है, जहां एक प्रेमी जोड़े ने खुद को पिस्टल से गोली मार आत्महत्या कर ली। प्रेमी-प्रेमिका ने आत्महत्या करने से 10 मिनट पहले सोशल मीडिया पर खुद के फोटो वायरल किए, जिसमें दोनों अपनी-अपनी कनपटी पर पिस्टल रखे हुए है। फोटो डालने के महज 8 मिनट बाद सुबह 4.08 बजे युवक ने दो अलग-अलग ऑडियो भी डाले जिसमें वो कहता हैं कि उनकी वजह से किसी को परेशान मत करना। युवक के भाई ने बताया कि आत्महत्या से पहले उसको फोन कर कहा था कि हम आत्महत्या कर रहे हैं। इसके बाद फोन काट दिया। दुबारा फोन किए तो युवक ने रिसीव नहीं किए। घटना की जानकारी जब पुलिस को मिली तो मौके पर पहुंच दोनों के शव बरामद किए। इधर, युवती के भाई ने मृतक युवक सहित दो अन्य के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या करने का मामला दर्ज करवाया है। 


एसपी राशि डोगरा डूडी ने बताया कि चौहटन थाना क्षेत्र के लीलसर गांव में एक प्रेमी जोड़े ने पिस्टल से गोली चला कर आत्महत्या कर ली। लीलसर निवासी शंकरलाल पुत्र भंवरलाल मुढ़ण व उसकी प्रेमिका ने सुनसान जगह पर जाकर गुरुवार अलसुबह करीब 4.15 बजे गोली मार आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर चौहटन एसडीएम, डिप्टी, थानाधिकारी सहित पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचा और शव बरामद किए। दोनों शवों का चौहटन सीएचसी में पोस्टमार्टम हुआ। दोनों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि युवक की कनपटी से गोली आर पार हो गई जबकि युवती के सिर में गोली फंसी हुई थी। गौरतलब है कि युवती शादीशुदा है उसकी दो माह पूर्व ही शादी हुई थी। दोनों के बीच काफी समय से अफेयर चल रहा था। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच इसे रोकने के लिए समझाइश भी हुई थी। 


यह आत्महत्या नहीं, गैंगरेप के बाद हत्या है 
चौहटन पुलिस थाने में युवती के भाई ने रिपोर्ट देकर बताया कि उसकी 18 वर्षीय बहन के साथ शंकराराम पुत्र भंवराराम व मूलाराम पुत्र हरदानराम यौन शोषण करते थे। पिस्टल की नोक पर लगातार दुष्कर्म करते रहते थे। बुधवार की रात को ये आरोपी उसके घर आए और उसकी बहन पर अनैतिक दबाव बनाकर घर से बाहर बुलाया। बाइक पर बिठाकर घर से दूर ले गए। इसके बाद शंकर के अलावा दो अन्य युवक भी शराब पार्टी में शामिल हुए। उसकी बहन को भी शराब व नशीला पदार्थ पिलाकर गैंगरेप किया। इसके बाद लड़की की गोली मार हत्या कर दी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की है। इधर युवक के पिता भंवराराम ने पुलिस को रिपोर्ट देकर बताया कि उसे गुरुवार सुबह सूचना मिली थी कि उसके पुत्र शंकर और उसके साथ एक लड़की लाश श्मशान घाट के पास पड़ी है। इस पर मौके पर जाकर देखा तो दोनों के हाथ में पिस्टल थी। शंकर और युवती ने पिस्टल से आत्महत्या कर ली। 


दोस्तों के साथ युवक ने बाछड़ाऊ होटल में खाना खाया 
युवक शंकराराम ने आत्महत्या से पहले बुधवार शाम को अपने दोस्तों के साथ बाछडा़ऊ गांव के एक होटल पर खाना खाया। 9.30 से 10 बजे के बीच शंकर व अन्य दोनों साथी होटल से निकल गए। यहां से शंकर सीधे युवती के घर चला गया। फोन पर उसे बाहर बुलाया और लीलसर गांव के पास ही एक कमरे में गए। यहां से पुलिस को एक चूड़ी, कंगन मिले है। इसके बाद करीब 200-300 मीटर दूर एक खेत में गए। जहां दोनों के शव, दो पिस्टल, बीयर व पानी की बोतल बरामद हुई है।


15 फोटो, 6 वीडियो और 3 ऑडियो वायरल किए 
शंकर ने घटना को अंजाम देने से पहले सोशल मीडिया पर एक ग्रुप में 15 फोटो, 6 वीडियो और 3 ऑडियाे वायरल किए थे। इस ग्रुप में शंकर का भाई भी जुड़ा हुआ है। 3.58 बजे वीडियो और फोटो डाले, 4.06 बजे 12 सेकंड का एक ऑडियो, दूसरा एक सेकंड और तीसरा 4.07 बजे 4 सेकंड का एक ऑडियो डाला। 


भाई को फोन कर कहा, हम आत्महत्या कर रहे हैं 
जिस ग्रुप में मरने से पहले युवक ने फोटो, वीडियो और ऑडियो वायरल किए उसमें शंकर का भाई धर्माराम भी जुड़ा हुआ है। धर्माराम गाड़ी चलाता है। जब शंकर ने ग्रुप में फोटो डाले तो उसने भी आॅडियो डाल कर ऐसा कदम उठाने से रोकने का प्रयास किया था। इसके बाद शंकर ने धर्माराम को फोन किया कि हम आत्महत्या कर रहे हैं। इसके बाद शंकर ने फोन नहीं उठाए। 


जालोर से दस दिन पहले ही घर आया, कमठा ठेकेदार हैं 
शंकर कमठा ठेकेदार है। सीमेंट प्लास्टर, चिनाई करने का काम करता था । जालोर में ठेकेदारी करता था। दो माह से वहीं था और दस दिन पूर्व ही लीलसर आया था। 
 

COMMENT