भास्कर एक्सपोज / खनन विभाग की तरह खुद का विभाग चला रहे खनन माफिया, रसीदें छाप वसूल रहे रॉयल्टी

Mining mafia running its own department
X
Mining mafia running its own department

  • गंगाणा-बुझावड़ और रोहिल्ला कलां का मामला
  • लगाम कसनेे में खान विभाग व प्रशासन दोनों विफल

Jun 06, 2019, 02:19 AM IST

जोधपुर ( मनीष बोहरा). अफसरों की आंखों के सामने पहाड़ खाने वाले माफिया इतने बेखौफ हैं कि उन्होंने खनन विभाग की तरह अपना खुद का कामकाज शुरू कर दिया है। यहां तक की रसीदें छपवाकर रॉयल्टी वसूलना भी शुरू कर दी है। जितने भी ट्रक अवैध रूप से निकलते हैं, ये उससे वसूली करते हैं। ये पत्थर सीधे बाजार में बिक जाता है। इसका सबसे बड़ा कारण विभाग की बेलगाम कार्यप्रणाली है जिसका फायदा माफिया उठा रहा है।

 

jodhpur

 

दरअसल, खनन क्षेत्रों में माफिया फर्जी रसीदों के बलबूते ही करोड़ों का व्यापार कर रहे हैं। वैध लीजधारक जहां ई-रवना इश्यू होने के बाद ही माल को ट्रक में लादकर ले जा सकता है। बड़ी ही आसानी से अवैध ट्रक को नाके पर पहुंचने पर बिना तुले ही वजन की रसीद दे दी जाती है, जो अवैध वाहन चालकों के लिए रक्षा कवच का काम करती है।

 

इसके बाद चालक पत्थर को सीधे बाजार में बेच देते हैं। न खान विभाग और न ही प्रशासन इन पर लगाम लगा पा रहा है। ये पूरा खेल विभाग की नाक के नीचे मिलीभगत से हो रहा है। खास बात यह है कि समय-समय पर यह फर्जी रसीद बुक का नाम बदल दिया जाता है। कभी टोकन, कभी रसीद तो कभी कोई नाम।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना