पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हर तरफ मेहरबान हो रहा है मानसून, सीमावर्ती रेगिस्तानी क्षेत्र में उठ रहे है धूल के बवंडर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मोहनगढ़ में उठता धूल का गुबार। - Dainik Bhaskar
मोहनगढ़ में उठता धूल का गुबार।
  • जैसलमेर के नहरी क्षेत्र में तेज आंधी से जनजीवन प्रभावित

जोधपुर. देश के अधिकांश क्षेत्रों में इन दिनों मानसून मेहरबान है, लेकिन जैसलमेर जिले के सीमावर्ती नहरी क्षेत्र में धूल के गुबार उठ रहे है। पश्चिमी राजस्थान में बुधवार शाम कई स्थान पर मेघ जमकर बरसे, लेकिन जैसलमेर के नहरी क्षेत्र का नजारा एकदम अलग ही था। नहरी क्षेत्र में दिनभर की तपन के पश्चात शाम को शाम को तेज आंधी से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। धूल के गुबार ने पूरे क्षेत्र को अपने आगोश में ले लिया।

जैसलमेर जिले के मोहनगढ़, सुल्ताना व भारेवाला सहित आसपास के क्षेत्रों में शाम को शुरू हुई आंधी ने देखते ही देखते तेजी पकड़ ली और बवंडर का रूप धारण कर लिया। थोड़ी देर में बॉर्डर की तरफ से धूल का गुबार मोहनगढ़ की तरफ बढ़ना शुरू हुआ। देखते ही देखते धूल भरे बंवडर ने पूरे क्षेत्र को अपने आगोश में ले लिया। हर तरफ धूल ही धूल नजर आ रही थी। थोड़ी दूरी तक कुछ भी दिखाई देना बंद हो गया। करीब आधे घंटे तक धूल भरी आंधी का दौर जारी रहा। गर्मी के मौसम में रेगिस्तान में धूल के बवंडर उठना सामान्य बात है, लेकिन इन दिनों बारिश के मौसम में इस तरह के बवंडर का उठना मौसम विशेषज्ञों को भी चौंका गया। हालांकि देर शाम जैसलमेर शहर में झमाझम बारिश हुई, लेकिन नहरी क्षेत्र सूखा ही रहा।
 

खबरें और भी हैं...