पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Jodhpur News Rajasthan News 39the Barricade Who Entered The Girls Hostel Did A Disgusting Act In Front Of Them These Misconduct Stopped In Public Places With Women So I Am Making Noise39

‘गर्ल्स हाॅस्टल में घुसे दरिंदे ने सामने घिनाैनी हरकतें की, महिलाओं के साथ सार्वजनिक स्थलों पर ये कुसंस्कृति रुके, इसलिए अावाज उठा रही हूं’

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

ट्रेन या बस में जानबूझकर कोहनी अड़ाने, जगह हाेने पर भी बेहद सटकर खड़े हाेने जैसी घटनाअाें से हर लड़की या महिला कभी ना कभी दो-चार हुई होगी। चंद उदाहरण को छोड़ अधिकांश ने चुप्पी ही साधी होगी। ऐसी अश्लीलताएं, अभद्रता अाैर उत्पीड़न जाे कभी कानून ताे दूर थाने की दहलीज तक ही नहीं पहुंचते। अाधी दुनिया की इस पूरी अाैर गंभीर समस्या के खिलाफ लॉ की एक छात्रा ने आवाज उठाई है। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की इस छात्रा ने ट्वीट कर महिलाओं से घिनौनी हरकतें करने वाले एवं पब्लिक प्लेसेज व ट्रांसपोर्टेशन में गर्ल्स से यौन अभद्रता करने वालों से न्याय दिलाने की गुहार की है। छात्रा ने ट्वीट में अपने साथ हुई एक घटना का जिक्र करते हुए लिखा कि- मेरे साथ एक भयंकर घटना हुई। मुझे लगता है कि यह घटना मुझे शेयर करनी चाहिए क्योंकि लाखों महिलाएं ऐसी परिस्थितियों से गुजरती हैं। हमें इस पर बात करनी ही चाहिए।

छात्रा ने लिखा कि- उस रात मैं और मेरी 3 अन्य सहपाठी हॉस्टल के रूम में थीं। हमेंं किसी व्यक्ति की बेहद अश्लील आवाजें आईं। देखा तो बाहर खड़ा होकर एक व्यक्ति कपड़े उतारकर बेहद आपत्तिजनक एवं अभद्र हरकतें कर रहा था। कैंपस में तमाम सिक्यूरिटी के बावजूद हॉस्टल तक पहुंचे व्यक्ति एवं उसकी हरकतें देखकर हम सभी छात्राएं सकते में आ गईं। इसके बावजूद वह व्यक्ति आपत्तिजनक हरकत करने एवं भद्दी आवाजें निकालने से बाज नहीं आया। इसके बाद जब हम उस व्यक्ति की ओर दौड़ीं तो वह वहां से भाग गया। छात्रा ने लिखा कि- तमाम कोशिशों के बावजूद यह घटना जेहन से हट ही नहीं रही थी। मुझे लगा कि आदमी के भेष में आए इस जानवर ने पहले भी स्त्री वर्ग के साथ ऐसी वहशियाना हरकतें की होंगी। इतना ही नहीं, यह अागे भी अपनी हरकताें से बाज नहीं अाएगा। यह एक तरीके की हिंसा है। यह मानसिक ही नहीं बल्कि याैन उत्पीड़न भी है। वह एेसे व्यक्तियाें का प्रतिनिधित्व करता है जाे सार्वजनिक स्थलों पर महिलाओं से शारीरिक छेड़छाड़ करते हैं। जो औरत को अपने से कमजोर और लाचार मानते हैं। यह उस कुसंस्कृति को मानने वाले हैं जो चाहते हैं कि महिलाओं अथवा लड़कियों के साथ इतना सब करने के बावजूद भी वे चुप रहें और इसे सामान्य मानते हुए कोई खिलाफत नहीं करें।

घटना के बाद उठ रहे ये 4 सवाल


} एनएलयू के मुख्यद्वार पर हाई सिक्यूरिटी हाेने के बावजूद करीब 700 मीटर दूर स्थित गर्ल्स हाॅस्टल तक पहंुचा।

} दीवारें करीब 10 फीट ऊंची है। इन पर तारबंदी भी है। दीवार कैसें फांद कर हॉस्टल तक पहंुचा।

} हाॅस्टल के मुख्यद्वार पर सीसीटीवी कैमरा लगा हुअा है, लेकिन अभी भी उस व्यक्ति की पहचान नहीं।

} चीफ वार्डन, वार्डन व केयर टेकर काे इस संबंध में कोई जानकारी नहीं।

ट्वीट का स्थानीय असर- एनएलयू प्रशासन अब कर रहा जांच

लड़की के इस ट्वीट के वायरल होने के बाद एनएलयू प्रशासन भी हरकत में आया। उन्होंने कॉलेज की सिक्यूरिटी में सेंध लगाकर गर्ल्स हॉस्टल तक पहुंचने वाले व्यक्ति की तलाश शुरू कर दी है। गर्ल्स ने अपनी शिकायत लिखित में भी दी है।

वे ट्वीट जिसमें लड़की ने बताई अपनी पीड़ा

इस घटना की जांच कर रहे हैं...

इस घटना के संबंध में छात्राअाें ने शिकायत दर्ज करवाई है। संबंधित अधिकारियाें से बात कर घटना की जांच की जा रही है। जानकारी जुटाकर कार्रवाई करेंगे। सुरक्षा में किसी स्तर पर चूक रही है ताे इस पर भी एक्शन लिया जाएगा।

- साेहनलाल शर्मा,

रजिस्ट्रार एनएलयू

खबरें और भी हैं...