हैपा फिल्टर लगाने से भी कॉकरोच-धूल से होने वाली एलर्जी नहीं राेकी जा सकती: डॉ. बेदान्थन

Jodhpur News - अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ काॅलोरेडी में प्रोफेसर डाॅ जीके बेदान्थन ने कहा कि हैपा फिल्टर लगाने के बाद भी बच्चों...

Feb 15, 2020, 09:30 AM IST
Jodhpur News - rajasthan news cockroach dust allergies cannot be prevented by applying hapa filter dr bedanthan

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ काॅलोरेडी में प्रोफेसर डाॅ जीके बेदान्थन ने कहा कि हैपा फिल्टर लगाने के बाद भी बच्चों में कॉकरोच और धूल से होने वाली एलर्जी को नहीं रोका जा सकता है। वे शुक्रवार को एमडीएमएच जनाना विंग में आयोजित इंटरनेशनल सीएमई ऑन पीडियाट्रिक एलर्जी में बतौर मुख्य वक्ता बोल रहे थे। उन्होंने बताया कि बच्चों में एलर्जी और वायरल निमोनिया बढ़ रहा है। इसके चलते एलर्जी को रोकने के लिए एसी आदि पर हैपा फिल्टर लगाया जाता है, लेकिन उससे भी एलर्जी को रोका नहीं जा सकता है।

सीएमई में डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के शिशु रोग विभागाध्यक्ष डॉ. अनुराग सिंह ने बताया कि बच्चों में एलर्जी का मुख्य कारण इंडोर एयर पॉल्यूशन होता है। उन्होंने बताया कि तीन साल तक के बच्चों में एलर्जी खाद्य सामग्री से होती है। उससे बड़े बच्चों में एलर्जी सांस के रास्ते से होती है। इसमें घरों में होने वाली धूल, मच्छरों को मारने के उत्पादों से निकलने वाली गंध आदि है। यदि थोड़ा ध्यान रखें तो इन सभी एलर्जी और दूसरी बीमारियों से बचा जा सकता है। सीएमई में बेंगलुरू से आए डॉ. भरत रेड्डी ने बच्चों में स्लीप एपनिया के बारे में बताया। उन्होंने बच्चों के सोने की स्थिति और स्लीप स्टडी के बारे में जानकारी दी। एम्स जोधपुर शिशु रोग विभाग के डॉ. जगदीश गोयल ने ग्लोबल इंसेटिव अगेंस्ट अस्थमा के बारे में जारी नई गाइडलाइन के बारे में बताया।

सीएमई में विशेषज्ञों ने कई जानकारियां दी।

X
Jodhpur News - rajasthan news cockroach dust allergies cannot be prevented by applying hapa filter dr bedanthan
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना