डीएमआरसी अब एनआईआईआरएनसीडी के नाम से जाना जाएगा, डॉ. हर्षवर्धन ने किया उद्घाटन

Jodhpur News - मरुस्थलीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र (डीएमआरसी) अब नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंप्लीमेंटेशन रिसर्च फॉर नॉन...

Dec 09, 2019, 09:00 AM IST
मरुस्थलीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र (डीएमआरसी) अब नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंप्लीमेंटेशन रिसर्च फॉर नॉन कम्युनिकेबल डिजीज (एनआईआईआरएनसीडी) के नाम से जाना जाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बटन दबाकर नए संस्थान का उद्घाटन किया। साथ ही केंद्र के प्रशासनिक खंड की आधारशिला रखी। डायरेक्टर डॉ. जीएस टूटेजा ने वर्ष 1984 में स्थापना के बाद से अब तक संस्थान में हुए अनुसंधान व गतिविधियों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि केंद्र के सिकल सेल प्रोजेक्ट के अंतर्गत एक लाख से अधिक जनजातीय आबादी की जांच की जा चुकी है और उन्हें उनकी बीमारी की जानकारी से संबंधित कार्ड भी बांटे जा चुके हैं। महिलाओं में स्तन कैंसर की शीघ्र पहचान के लिए चल रहे प्रोजेक्ट के अंतर्गत लगभग 84 हजार महिलाओं को स्तन के स्वयं परीक्षण जांच का प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इन महिलाओं में से 489 महिलाएं स्तन कैंसर के लिए संदिग्ध पाई गई थीं, जिनमें से 9 महिलाओं में स्तन कैंसर की पुष्टि की गई और उनका उपचार भी शुरू हो गया है। कार्यक्रम में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत ने भी शिरकत की।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना