पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हनुमान चालीसा व रामचरित मानस के रचयिता तुलसीदास की जयंती उल्लास के साथ मनाई

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जोधपुर | सावन मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि पर बुधवार को शहर में तुलसीदास की जयंती श्रद्धा के साथ मनाई गई। इस मौके पर शिक्षण संस्थानों में पौधरोपण अौर संगोष्ठी सहित कई आयोजन हुए। हिंदू संत और कवि के रूप में अपनी पहचान कायम करने वाले तुलसीदासजी की भगवान राम के प्रति बहुत श्रद्धा थी। तुलसीदास को महर्षि वाल्मीकि की संस्कृत में लिखी मूल रामायण को अवधी भाषा में लिखने का श्रेय जाता है, यही वजह है कि उनके लिखे ग्रंथ को हम ‘रामचरितमानस’ के नाम से जानते हैं। इसी कारण से तुलसीदासजी की जयंती को श्रद्धा के साथ मनाया गया।

खबरें और भी हैं...