• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Jodhpur News rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk

पिछले साल 3 जान जाने पर भी जिम्मेदार नहीं जागे शहर में खुले पड़े मौत के ‘कुएं’, आप संभलकर चलना

Jodhpur News - भानुप्रतापसिंह चौहान| जोधपुर जोधपुर। शहर में मानसून सिर पर खड़ा है पर नगर निगम के जिम्मेदार हाथ पर हाथ धरे बैठे...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:10 AM IST
Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
भानुप्रतापसिंह चौहान| जोधपुर

जोधपुर। शहर में मानसून सिर पर खड़ा है पर नगर निगम के जिम्मेदार हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। शहर में पिछले साल बारिश के दौरान खुले नालों में बहकर तीन लोगों की जान जाने के बावजूद अफसर पूरे साल बेपरवाह ही बने रहे। हादसों के बाद कुछ एक जगह नालों पर जालियां या रेलिंग लगाकर इतिश्री कर ली गई। आज भी शहर में चौपासनी हाउसिंग बोर्ड प्रथम पुलिया व दूसरा पुलिया, नहर रोड और एम्स रोड सहित कई जगहों पर बड़े-बड़े गड‌्ढे हैं और नालों के मेनहोल खुले पड़े हैं। बारिश के दौरान इनमें गिरकर किसी की भी जान जा सकती है। ऐसे में आमजन को यही सलाह है कि प्रशासन और निगम के जिम्मेदारों ने तो एक साल में आंखें नहीं खोलीं पर आप बारिश के समय अपनी आंखें जरूर खुली रखना और सड़कों पर संभलकर चलना। इसको लेकर महापौर घनश्याम ओझा ने कहा कि पूरे शहर में टीमें भेजकर पता करवाएंगे और जहां कहीं भी नालों के मेनहोल खुले होंगे उन्हें और गड‌्ढों को बंद करवाएंगे।

भास्कर टीम गड्‌ढों व खुले मेनहोल को लेकर शहर में घूमी तो चौहाबो व नहर रोड पर 40 से ज्यादा मेनहोल खुले मिले। कुछ जगहों पर लगी लोहे की जालियां भी टूटी पड़ी और बाहर निकली हुई मिली। एम्स के सामने भी हालात इतर नहीं दिखे। यहां 7 जगह गड्‌ढे दिखे, जिन पर लोहे की रेलिंग नहीं लगी है। रात में कई जगह अंधेरे के कारण भी इनसे हादसा हो सकता है। चौपासनी ग्राम निवासी डाॅ. हरिदास व्यास, अशोक कुमार, रमेश भाटी आदि ने बताया कि चौपासनी पहला पुलिया व दूसरा पुलिया होते हुए नहर रोड से एम्स की तरफ सड़क के साइड में नाले कवर नहीं होने से वहां से निकलने में परेशानी होती है और बारिश में तो ये जानलेवा साबित हो सकते हैं। इन्हें लेकर शिकायत भी कर चुके हैं, लेकिन किसी ने सुनवाई नहीं की।

2.5 किमी की नहर रोड, मौत के 40 गड्‌ढे

गड‌्ढों व खुले मेनहोल में फंस चुके हैं वाहन

शहर में कई जगह सड़कों पर गड्‌ढों और साइड में नालों के खुले मेनहाेल से आए दिन वाहनों के फंसने की घटनाएं होने के बावजूद प्रशासन नहीं जाग रहा। नगर रोड हो या एम्स के बाहर, गड‌्ढों में गिरकर कई राहगीर घायल भी हो चुके हैं। इनसे कई वाहन भी क्षतिग्रस्त हो चुके हैं।

पिछले साल खतरनाक पुलिया व माता का थान में हुए हादसों में तीन जान चली गई थी: पिछले साल बारिश में खतरनाक पुलिया पर नाले में गिरने से एक प्रोफेसर की जान चली गई थी। वहीं माता का थान इलाके में एक महिला व मासूम की मौत हो गई थी। दोनों धार्मिक कार्यक्रम से लौट रहे थे और सड़क पर बारिश का पानी जमा होने के चलते नाले के खुले मेनहोल में गिरकर बह गए थे।

चौहाबो पहला व दूसरा पुलिया से नहर रोड तक सड़क के किनारे नाले के मेनहोल खुले पड़े हैं। इनमें कुछ में झाड़ियां उग चुकी हैं तो कुछ में पत्थर पड़े हैं। कुछ में लगी लोहे की जालियां टूटी पड़ी हैं जो और भी खतरनाक साबित हो सकती है। बारिश में पानी जमा होने से इन गड‌्ढों से किसी की भी जान जोखिम में पड़ सकती है। विभागीय अफसर शिकायतों के बावजूद इन्हें ढंकने को लेकर गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं। बारिश से पूर्व इन्हें ठीक करवाने की बजाय हादसे का इंतजार कर रहे हैं।

Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
X
Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
Jodhpur News - rajasthan news last year 3 people were not even responsible for knowing the 39well39 of open death in the city you have to walk
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना