• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Jodhpur News rajasthan news now the railway employees are making excuses for the wage revision on the target of cyber thugs

अब रेलकर्मी साइबर ठगों के निशाने पर, वेतन संशोधन के बहाने कर रहे फोन

Jodhpur News - सिटी िरपाेर्टर. जोधपुर| देशभर में रेलवे के अफसर व कर्मचारी अब साइबर ठगों के निशाने पर हैं। ये ठग इन लोगों को वेतन...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:00 AM IST
Jodhpur News - rajasthan news now the railway employees are making excuses for the wage revision on the target of cyber thugs
सिटी िरपाेर्टर. जोधपुर| देशभर में रेलवे के अफसर व कर्मचारी अब साइबर ठगों के निशाने पर हैं। ये ठग इन लोगों को वेतन में संशोधन, रेलवे के एप में जानकारी अपडेट करने और वेतन स्लिप मोबाइल पर उपलब्ध करवाने के लिए खुद को रेलवे के लेखा व कार्मिक विभाग के कर्मचारी बताकर निजी जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे हैं। ठगों ने जोधपुर में वेतन बनाने वाले अफसरों को ही फोन कर जानकारी मांग ली। इधर ठगों ने ऐसे ही मुंबई सेंट्रल मंडल का एक कर्मचारी से 1 लाख उड़ा लिए। रेलवे बोर्ड से मंडल स्तर पर अब अधिकारी अलर्ट जारी कर अपने अधिकारियों व कर्मचारियों को ठगों से आगाह कर रहे हैं। वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी आरएस चारण को पंकज जैन नामक व्यक्ति ने खुद को उत्तर-पश्चिम रेलवे मुख्यालय जयपुर से लेखा विभाग का कर्मचारी बता सेलेरी अकाउंट के बैंक खाते से लिंक होने और फिक्सेशन के लिए मोबाइल नंबर व उस पर आने वाले ओटीपी की जानकारी देने को कहा। चारण खुद कर्मचारियों का वेतन बनाते हैं, ऐसे में उन्हें पता था कि यह फोन फर्जी है तो उन्होंने जानकारी न देकर उसे डांट दिया। ऐसा ही फोन वेतन पास करने वाले वरिष्ठ मंडल वित्त प्रबंधक के पास भी आया। चारण ने बताया कि उन्होंने कर्मचारियों व अधिकारियों को अलर्ट जारी कर कहा है कि रेलवे प्रशासन मोबाइल पर किसी भी तरह की सूचना नहीं मांगताें।

कहा, 8 नंबर दबाओ, खाता खाली हुआ: मुंबई सेंट्रल मंडल के दारव्हा मोतीबाग स्टेशन पर कार्यरत एक कर्मचारी के पास एके श्रीवास्तव नाम से फोन आया। उसने खुद को लेखा विभाग का कर्मचारी बता पहले सारी जानकारी ली फिर अपने फोन से 8 नंबर दबाने को कहा। इसके बाद उसके खाते से 99,999 रुपए निकल चुके थे। मुंबई सेंट्रल डीआरएम संजयकुमार जैन ने इस तरह की ठगी और सीयूजी मोबाइल के जिओ में कनवर्ट करने जैसे कॉल से सावचेत रहने को कहा है।

...इधर 24 घंटे में ऑनलाइन ठगी के 4 मामले दर्ज

शहर में तेजी से बढ़ते साइबर क्राइम से आमजन लगातार ठगे जा रहे हैं। पुलिस जांच के नाम पर सिर्फ एफआईआर दर्ज कर रही है। शहर के अलग-अलग पुलिस थानों में पिछले 24 घंटे में चार लोगों की ठगी के मामले दर्ज हुए हैं। शातिर ने इन चार व्यक्तियों से तकरीबन एक लाख रुपए से अधिक की राशि खाते से साफ कर दी।

केस 1: मिल्कमैन कॉलोनी निवासी पालु ने सदर कोतवाली में रिपोर्ट दी कि बैंक खाता पीएनबी में है। 1 जुलाई को उसके खाते से 25 सौ रु. पार हो गए। इसके बाद एक व्यक्ति का कॉल आया। उसने कहा कि ओटीपी की जानकारी दोगे तो रुपए वापस आ जाएंगे। इस पर उसने ओटीपी दे दिए। कुछ ही देर बाद खाते से 33,700 रु. निकले।

केस 2: वीर दुर्गादास कॉलोनी महामंदिर के राजेंद्र सिंह ने रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि उसके खाते से ऑनलाइन 20 हजार पार हो गए। रिपोर्ट में बताया कि ना तो उसने किसी को एटीएम के पिन नंबर बताए और ना ही किसी को बैंक खाते की जानकारी दी।

केस 3: सारण नगर निवासी जोगाराम जाट ने महामंदिर पुलिस को बताया कि खाता एसबीआई में है। 5 जुलाई को खाते से 40 हजार शातिर ने निकाल लिए। यह रुपए आबूरोड की यूको बैंक से निकाले गए। शख्स ने उससे ओटीपी पूछे थे। जानकारी देनेे के कुछ ही देर बाद ही अलग-अलग किश्तों में 40 हजार पार हो गए।

केस 4: भोपालगढ़ सती नगर निवासी बागाराम ने उदयमंदिर पुलिस को बताया कि उसका खाता कचहरी स्थित एसबीआई में है। 5 जुलाई को किसी शख्स ने बिना ओटीपी या बैंक की गोपनीय जानकारी लिए खाते से 20 हजार पार कर लिए।

X
Jodhpur News - rajasthan news now the railway employees are making excuses for the wage revision on the target of cyber thugs
COMMENT