• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Jodhpur News rajasthan news nursing worker in the saving of lives of patients between life threatening infection 56 patients health in 13 days

जानलेवा संक्रमण के बीच मरीजों की जिंदगी बचाने में जुटे नर्सिंगकर्मी, 13 दिन में 56 पेशेंट स्वस्थ किए

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 04:45 AM IST

Jodhpur News - स्वाइन फ्लू को काबू में करने के लिए कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने शहर के 2.50 लाख घरों में सघन स्क्रीनिंग के निर्देश...

Jodhpur News - rajasthan news nursing worker in the saving of lives of patients between life threatening infection 56 patients health in 13 days
स्वाइन फ्लू को काबू में करने के लिए कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने शहर के 2.50 लाख घरों में सघन स्क्रीनिंग के निर्देश दिए हैं। इस अभियान के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए माइक्रोप्लान की मॉनिटरिंग के लिए 25 आरएएस अफसरों को लगाया गया है। करीब 1200 स्वास्थ्यकर्मी स्क्रीनिंग सर्वे कर स्वाइन फ्लू के लक्षणोंं व बचाव के बारे में जानकारी देंगे। शहर के 65 वार्डों को 7 जोन में विभाजित किया है।

जिस वार्ड में परिजन, चिकित्सा सचिव और कलेक्टर तक जाने से कतराते हैं, वहां घंटों तक इलाज करते हैं

महावीर प्रसाद शर्मा | जोधपुर

स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामलों और मौतों के बीच बहुत कुछ पॉजिटिव भी है। स्वाइन फ्लू वार्ड, जहां मरीज के अलावा सामान्यत: उनके परिजन तक नहीं आते, जहां कलेक्टर, चिकित्सा सचिव तक आने से कतराते हैं। वहां खुद की जान जोखिम में डालकर मरीजों को स्वस्थ करने की जद्दोजेहद में जुटे हैं मेडिकल कर्मी। ये मेडिकल कर्मी स्वाइन फ्लू वार्ड के भीतर घंटों मरीजों का इलाज करने, उन्हें दवा, इंजेक्शन देने, तीमारदारी के साथ ही उनका हौसला बढ़ाने में जुटे रहते हैं। यह सारा काम वे ऐसे वार्ड में करते हैं, जहां जानलेवा संक्रमण का खतरा हर पल इन पर भी मंडराता है। इन नर्सिंगकर्मियों के परिजन भी इन्हें ड्यूटी कहीं और शिफ्ट की जिद करते हैं। लेकिन काम के प्रति इन लोगों का जुनून और समर्पण ही है कि ये फर्ज और ड्यूटी से नहीं डिगते। जब इतने फौलादी इरादों के साथ कोई जुटा हो तो कई बार मौत को भी रास्ता बदलना पड़ता है। यही कारण है कि 13 दिन में ये लोग 56 जानें बचा चुके हैं। यानी 56 पॉजिटिव को स्वस्थ कर चुके हैं। अभी एमडीएमएच के 6 वार्ड में पॉजिटिव व संदिग्ध भर्ती हैं। मौसम के मद्देनजर बीमारी प्रभावी रहेगी। इन चुनौतियों के बीच यह 24 घंटे जुटे हैं।

राहत का दिन... कोई अप्रिय समाचार नहीं

रविवार को 89 सैंपल की जांच में 23 पॉजिटिव आए। स्वाइन फ्लू से तो कोई मौत नहीं हुई, एक संदिग्ध रोगी की मौत हुई है। मदेरणा कॉलोनी की महिला रात में डॉक्टर को बताकर घर लौट गई।

स्वस्थ होकर जाते मरीज के शब्द और वो अहसास ही मेरी शक्ति: भागीरथ

नर्सिंग स्टाफ भागीरथ पटेल 4 साल से पॉजिटिव मरीजों के वार्ड में ड्यूटी दे रहे हैं। वे बताते हैं कि पहले डर लगता था। पहले साल वैक्सीनेशन भी करवाया, टेमीफ्लू भी लेता था। अब मरीज को रात में उठाकर दवा देना, वेंटिलेटर वाले मरीज को स्पेशल केयर देना आदत हो गई है। एक बुजुर्ग महिला बहुत ही गंभीर स्थिति में आई थीं। डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, सबका कहना था कि बचना मुश्किल है। मैंने महिला की देखभाल में जान लगा दी। 4 दिन बाद वे स्वस्थ होकर लौट रही थीं तो मुस्कराते हुए कहा- बेटा तूने बचा लिया। उस समय जो अहसास हुआ, आत्मसंतुष्टि महसूस हुई, वही शक्ति बनकर मुझे काम में जुटाए रखती है।

25 आरएएस करेंगे 2.5 लाख घरों के सर्वे की मॉनिटरिंग

घरवालों को समझाया- किसी को तो ड्यूटी करनी होगी, मैं ही करूंगा: अजय

नर्सिंग स्टाफ अजय बरांडा 3 साल से ड्यूटी कर रहे हैं। वे बोले- पहली बार जब ड्यूटी लगी तो घरवाले बोले- कहीं और ड्यूटी कर लो। मैंने समझाया किसी को तो ड्यूटी करनी ही है ना। मैंने यह प्रोफेशन सेवा के लिए भी चुना है। ड्यूटी मैं ही करूंगा। अस्पताल में हमें बचाव के लिए इंजेक्शन लगाते हैं, दवाएं भी देते हैं। एक बार जुकाम होने पर डॉक्टर ने टेमीफ्लू देकर आराम करने को कहा। मैंने दवा लेकर काम करना मुनासिब समझा। हर बार वैक्सीनेशन करवाता हूं। अभी भी स्वाइन फ्लू से मौत की खबर पढ़कर घर वाले ड्यूटी चेंज कराने के लिए कहते है। लेकिन मुझे इन मरीजों की सेवा करना अच्छा लगता है।

Jodhpur News - rajasthan news nursing worker in the saving of lives of patients between life threatening infection 56 patients health in 13 days
X
Jodhpur News - rajasthan news nursing worker in the saving of lives of patients between life threatening infection 56 patients health in 13 days
Jodhpur News - rajasthan news nursing worker in the saving of lives of patients between life threatening infection 56 patients health in 13 days
COMMENT