• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Jodhpur News rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich

एटीएम से कैश निकालने कतार में खड़े हों, तोनंबर आने पर ही जेब से निकालें कार्ड : दाधीच

Jodhpur News - साइबर क्राइम किया नहीं जाता, व्यक्ति की कोई न कोई गलती करवा देती है। इसके लिए जरूरी है तो सिर्फ एक बात ‘सतर्कता’।...

Feb 15, 2020, 09:21 AM IST
Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich

साइबर क्राइम किया नहीं जाता, व्यक्ति की कोई न कोई गलती करवा देती है। इसके लिए जरूरी है तो सिर्फ एक बात ‘सतर्कता’। आज के दौर में ज्यादातर यूजर स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं, लेकिन इन्हीं में कुछ एटीएम बूथ पर कैश निकालने के लिए कतार में खड़े होते हैं, तो खुद का डेबिट या क्रेडिट कार्ड भी जेब से निकालकर हाथ में रख लेते हैं। वहां खड़ा कोई शातिर एक पल में कार्ड के नंबर और उसके दूसरी तरफ लिखे सीवीवी नंबर देख सकता है। ऐसे में यूजर्स को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि जब कतार में नंबर आ जाए, तभी कार्ड जेब या पर्स से निकालें। साइबर फ्रॉड से बचने के लिए कुछ ऐसे ही उपयोगी टिप्स दिए आईटी एक्सपर्ट इंजीनियर हरीश दाधीच ने। मौका था रावण का चबूतरा मैदान पर राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद की ओर से आयोजित सरस राष्ट्रीय क्राफ्ट मेले में शुक्रवार को दैनिक भास्कर, जोधपुर पुलिस कमिश्नरेट, रोटरी क्लब मिडटाउन और एसबीआई के संयुक्त तत्वावधान में साइबर क्राइम से बचने के लिए जागरूकता सेमिनार का। साइबर एक्सपर्ट व व्यास इंजीनियरिंग कॉलेज कंप्यूटर साइंस विभागाध्यक्ष दाधीच ने ऑनलाइन बैंकिंग व इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय बरती जाने वाली सावधानियों को उदाहरण के साथ समझाते हुए कहा कि अनजान नंबर से आए मैसेज या ईमेल में आकर्षक व लुभावने झांसे में आने से बचें, तो ठगी से भी बच सकेंगे।

चिप लगे डेबिट-क्रेडिट कार्ड ज्यादा सुरक्षित : गोस्वामी

जोधपुर पुलिस कमिश्नरेट की साइबर क्राइम यूनिट (सीसीयू) के एसआई कमलपुरी गोस्वामी ने बताया कि आजकल सभी बैंक अपने ग्राहकों को चिप लगे कार्ड उपलब्ध करवा रही है। पुराने कार्ड, जिनमें सिर्फ मैग्नेटिक स्ट्रिप होती है, उन्हें तत्काल बदलवाकर चिप वाले कार्ड ले लें। ये नए कार्ड ज्यादा सुरक्षित हैं। गोस्वामी ने बताया कि सोशल मीडिया का उपयोग आम है, लेकिन ज्यादातर लोग अपने पासवर्ड नहीं बदलते हैं, जबकि समय-समय पर इसे बदलना उचित रहता है। इन पासवर्ड में भी अपना नाम, मोबाइल नंबर, जन्मतिथि या ऐसी कोई जानकारी नहीं डालनी चाहिए, जो सोशल मीडिया पर सार्वजनिक रूप से उपलब्ध होती है। खुद के हर तरह के पासवर्ड, बैंक खाते, आधार, पैन इत्यादि भी मोबाइल की कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव नहीं करना चाहिए। ओएलएक्स या अन्य प्लेटफार्म पर विज्ञापन देखकर कोई सामान खरीदने का इरादा भी हो, तो पहले खुद उस सामान की फोटो की बजाय खुद की आंखों से अपने शहर में ही देखने की डिमांड करें। ऐसा करके संभावित फ्रॉड से आसानी से बच सकेंगे। अपने मोबाइल में किसी अनजान द्वारा बताया गया एप्लिकेशन कभी भी इंस्टाल नहीं करें। एनी डेस्क या अन्य एप इंस्टाल करवाकर कोई शातिर आपके मोबाइल से पूरा डाटा चुरा सकता है। पुलिस की सीसीयू टीम के सदस्य राजेश कुमार मीणा ने फेसबुक के सुरक्षित उपयोग के लिए टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन का उपयोग करने सहित अन्य टिप्स दिए।

अभियान


भास्कर

सचेत रहेंसाइबर ठगों से बचें

राजेश कुमार मीणा।

एसआई कमलपुरी।

Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich
Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich
X
Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich
Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich
Jodhpur News - rajasthan news standing in the queue to withdraw cash from the atm remove the card from the pocket when the number arrives dadhich
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना