कौन-सी हेयर डाई है सही और कब करें इस्तेमाल

Jodhpur News - ट्रें डी ट्रेंडी लुक पाने के लिए हम अक्सर हेयर कलर्स और हेयर डाईज का इस्तेमाल करते हैं। बाजार में इनके बहुत से...

Feb 15, 2020, 09:21 AM IST
Jodhpur News - rajasthan news which hair dye is right and when to use it

ट्रें डी ट्रेंडी लुक पाने के लिए हम अक्सर हेयर कलर्स और हेयर डाईज का इस्तेमाल करते हैं। बाजार में इनके बहुत से ऑप्शन मौजूद हैं। इसलिए इनकी जानकारी होना जरूरी है। जहां हेयर डाई बालों की सतह के अंदर जाती है, वहीं हेयर कलर बालों के ऊपर ही रहते हैं और उन्हें केवल बाहर से रंगते हैं। आज हम डाईज के प्रकार और बालों के लिए कुछ मास्क्स के बारे में बता रहे हैं।

परमानेंट: साइड इफेक्ट्स जानना जरूरी

ये डाई एक बार लगने के बाद छूटती नहीं है। इनमें रंग के साथ अमोनिया, हायड्रोजन पेरोक्साइड, पैराबेन्स और सल्फेट जैसे घातक केमिकल हैं। इनसे किडनी और फेफड़ों को नुकसान पहुंचने की आशंका है, साथ ही यूरिनरी ब्लैडर कैंसर, नर्वस सिस्टम डिसॉर्डर और गंभीर एलर्जी हो सकती है। अब उपभोक्ता इन साइड-इफेक्ट्स के प्रति जागरूक हो गए हैं, इसलिए कंपनियां इन कैमिकल्स की मात्रा कम करती जा रही हैं और इन्हें ‘नैचुरल मैच’, ‘हर्बलशाइन’ या ‘अमोनिया फ्री’ जैसे नामों से बेच रही हैं। प्रेग्नेंट महिलाओं, नई मां और अस्थमा व एग्जिमा जैसी बीमारी से पीड़ित या किडनी संबंधी समस्या होने पर परमानेंट हेयर डाई का बिल्कुल इस्तेमाल न करें।

सेमी-परमानेंट: केवल रंग गहरा करती हैं

इन डाईज में अमोनिया नहीं होता, वहीं हायड्रोजन पेरॉक्साइड जैसे अन्य केमिकल कम होते हैं। इसलिए सेमी-परमामेंट हेयर डाई बालों की ऊपरी सतह को ही रंगती है। सेमी-परमानेंट कलर्स 3-4 हफ्तों में फीके पड़ने लगते हैं। हालांकि यह इस पर भी निर्भर है कि आप कितनी बार बाल धोती हैं। इन कलर्स को केवल बालों का रंग गहरा करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। उदाहरण के लिए कत्थई बालों को काला तो कर सकती हैं, लेकिन बालों का रंग हल्का नहीं कर सकतीं। यानी सेमी-परमानेंट डाईज बालों को गोल्डन या ब्लॉन्ड करने के लिए इस्तेमाल नहीं की जा सकतीं।

टेम्पररी: खास मौकों के लिए अच्छा विकल्प

टेम्पररी कलर बालों को एक या दो बार शैम्पू से धोने पर ही निकल जाता है। यह हेयर वॉश, हेयर शैम्पू, जैल, स्प्रे और फोम के रूप में आते हैं। ये बालों को चमकदार बनाते हैं लेकिन सिर्फ एक या दो बार में ही धुल जाते हैं। ये डाई पार्टी या किसी खास मौके पर बालों को रंगने के लिए अच्छी विकल्प हैं।

बालों की सेहत बनाए रखने के लिए मास्क

आप कोई भी डाई इस्तेमाल करें, बालों को थोड़े नुकसान की आशंका तो रहती ही है। इनकी सेहत बरकरार रहे, इसके लिए ये मास्क इस्तेमाल कर सकती हैं।

हनी-बनाना मास्क: एक ज्यादा पके हुए केले को मैश करें और उसमें एक टेबलस्पून शहद मिलाकर स्मूथ पेस्ट बनाएं। इस मिक्सचर को साफ बालों पर लगाएं और 30 मिनट के लिए कवर कर लें। फिर बाल धो लें।

कैरट-हनी मास्क: तीन मध्यम आकार की गाजरों का पेस्ट बनाएं। इसमें योगर्ट या दही और 2 टेबलस्पून शहद मिलाएं। साफ और गीले बालों पर लगाकर मसाज करें ताकि यह स्कल्प (खोपड़ी की खाल) तक पहुंचे। दो मिनट बाद धोकर निकाल लें। एक बार और बाल धोएं।

ओनली मेयोनीज मास्क: साफ और गीले बालों में मेयोनीज लगाएं। फिर प्लास्टिक कैप से बालों को बीस मिनट के लिए ढंक लें। इसका असर बढ़ाने के लिए थोड़ी गर्माहट दे सकती हैं। अब बालों को तब तक धोएं जब तक यह पूरी तरह निकल न जाए।

कायनात हुसैन, मेकअप एक्सपर्ट, दुबई [ @glambykainat ]

हेयर केयर**

FEM WORLD**

Jodhpur News - rajasthan news which hair dye is right and when to use it
X
Jodhpur News - rajasthan news which hair dye is right and when to use it
Jodhpur News - rajasthan news which hair dye is right and when to use it
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना