भावनाओं पर पूरा कंट्रोल रखकर ही मुकाम हासिल कर सकते हैं: युविका **

Jodhpur News - बचपन तो मेरा मेरठ में बीता। पैरेंट्स मुझे डॉक्टर या इंजीनियर बनाना चाहते थे। मैं स्कूल व कॉलेज के दिनों में...

Feb 17, 2020, 08:55 AM IST

बचपन तो मेरा मेरठ में बीता। पैरेंट्स मुझे डॉक्टर या इंजीनियर बनाना चाहते थे। मैं स्कूल व कॉलेज के दिनों में हमेशा कल्चरल एक्टिविटीज में हिस्सा लेती थी। डांस मैं बहुत अच्छा करती थी। सिर्फ डांस के बूते पर ही इस कॅरियर में आई। छोटी उम्र से ही फिल्मों के ऑफर अाने लगे। जब छोटे पर्दे पर काम कर रही थी तो उसी बीच शाहरुख खान की ओम शांति ओम में मौका मिला। लोगों ने पहचाना और पसंद किया। अब तक कई फिल्में कर चुकी हूं। मैं ग्लैमर लाइन में सिर्फ पहचान बनाने के लिए नहीं बल्कि खुद को निखारने के लिए आई हूं। बहुत कुछ सीखने को मिलता है। मैं एक्टिंग और डांसिंग में अब भी बहुत कुछ सीख रही हूं। फिल्मों के ऑफर तो बहुत हैं लेकिन अच्छी स्क्रिप्ट ही करना पसंद करती हूं। अगर किरदार में मैं कहीं फिट होती हूं तब ही हां कहती हूं। बॉडी के साथ-साथ माइंड को भी हैल्दी रखना जरुरी है। इससे ही आधी बीमारियां तो खत्म हो जाती हैं। मार्केट के स्ट्रीट फूड को छोड़कर हैल्दी भोजन खाएं और फिट रहें। खुद की भावनाओं पर कंट्रोल रखकर जीवन में कोई भी मुकाम हासिल किया जा सकता है।

सेलिब्रेटी का मतलब सिर्फ लाइमलाइट मे ंरहना ही नहीं बल्कि समाज और देश के लिए भी कुछ करना है। मैंने पांच वर्ष के हार्ड वर्क के बाद ये मुकाम हासिल किया। नीम हकीम की तरह थोड़ी नॉलेज लेकर काम करने से कुछ नहीं मिलता। ग्लैमर लाइन की बारीकियों को समझकर ही इस लाइन में कदम रखना चाहिए। बिग बॉस में मुझे मौका मिला तो ये मेरे लिए चुनौती थी, इसे पहली जंग समझकर बहुत मेहनत की। सक्सेस मिली तो इसे कायम रखने के लिए डाउन टू अर्थ रहकर काम किया। डायरेक्टर व प्रोडयूसर्स से बहुत कुछ सीखा और आज भी सीख रहा हूं। मेरा जो क्रेज पांच साल पहले था पब्लिक में वो ही आज भी है। मैं इसे कायम रखने का प्रयास अपनी लर्निंग और मेहनत से करता हूं। मैं तीन सौ दिन बिजी रहता हूं। हार्डवर्क ही मेरा मंत्र है। बचपन में भी बिजी रहता था। तब मैं बहुत ज्यादा शरारती था। आज देखने को मिल रहा है कि बच्चे अब बच्चों जैसे ही नहीं दिखते वो शो पीस की तरह होते जा रहे हैं। बच्चों को उनके हाल पर फ्री छोड़ दें और सिर्फ ऑब्जर्व करें। मॉनिटरिंग से उन्हें सुधारें लेकिन उनके फ्रेंड बनकर। वैसे तो मैं छोटे पर्दे पर ही खुद को एक्सपोज करना पसंद करता हूं। मुझे घर-घर पहुंचना अच्छा लगता है। फिल्में तो सीमित लोग ही देखते हैं। लेकिन हां फिल्में जब भी करुंगा तो सोशल इश्यू पर स्टोरी को पसंद करुंगा।


समाज व देश के लिए कुछ करना भी सेलिब्रिटी की जिम्मेदारी: प्रिंस
**

जोधपुर| शहर में रविवार को एक मेकअप एकेडमी की ओपनिंग में विशेष मेहमान के रूप में बिग बॉस और नच बलिए फेम प्रिंस नरूला और युविका चौधरी ने शिरकत की। दाेनाें सेलिब्रिटिज ने हैल्दी फूड और लाइफ स्टाइल को मेंटेन कर हैल्दी माइंड की सलाह दी। नरूला ने छोटे पर्दे पर कई रियलिटी शो में अपने कैरेक्टर से दर्शकों को गुदगुदाया। एमटीवी के चर्चित रोडीज से उन्हें पहचान मिली। सेलिब्रिटी चौधरी ने छोटे पर्दे के नच बलिए से पहचान बनाई। साथ ही शाहरुख खान के साथ ओम शांति ओम, दो बात पक्की, और सब कुशल मंगल जैसी फिल्मों में टेलेंट दिखाया। दोनों सेलिब्रिटिज ने सिटी भास्कर से खुलकर अपनी फीलिंग्स और सोशल इश्यू पर बात की। ये भी बताया कि किस प्रकार सफलता की दौड़ में शामिल रहें।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना