पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

होटल पर ली सेल्फी बन गई 11 लोगों की अंतिम तस्वीर, हादसे ने दो परिवारों की खुशियां छीनीं

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पचपदरा स्थित होटल पर चाय के साथ सेल्फी लेते परिजन।
  • शनिवार को हुए सड़क हादसे ने बाड़मेर के दो परिवारों के 11 लोगों की मौत हो गई थी
  • शादी के बाद देवी-देवताओं की पूजा करने के लिए सुबह 7.20 बजे घर से निकले थे

बालोतरा (बाड़मेर). जोधपुर जिले में शनिवार को हुए सड़क हादसे ने बाड़मेर के दो परिवारों की खुशियां छीन लीं। बाड़मेर के बालोतरा इलाके के बिठूजा गांव की रहने वाली सीता की शादी 27 फरवरी को निकट के गांव कनाना निवासी विक्रम के साथ हुई थी। अभी तक सीता के हाथ में लगी मेहंदी का रंग भी नहीं उतरा था कि सड़क हादसा उनकी जिंदगी लील गया। उनके सहित कुटुंब के 11 लोग इस हादसे में जान गवां बैठे। हादसे में विक्रम के जीजा किशोर के साथ उसकी पत्नी, पुत्र व पुत्री की भी मौत हो गई।


हादसे की की सूचना मिलते ही दोनों के गांवों बालोतरा, कनाना व कुशीप में शोक की लहर दौड़ गई। विक्रम व सीता शादी के बाद की देवी-देवताआंे के जात देने शनिवार सुबह 7.20 बजे परिवार सदस्यों के साथ रामदेवरा के लिए रवाना हुए थे। घर से 60 किलोमीटर दूर ही जोधपुर जिले की सीमा पर 8.40 बजे यह हादसा हो गया। इससे पहले रास्ते में पचपदरा स्थित आई माता होटल पर सभी लोगों ने चाय-नाश्ता किया। होटल के बाहर परिवार के सभी सदस्यों ने एक साथ मोबाइल से सेल्फी भी ली। उस वक्त किसी को भी यह अंदेसा नहीं था कि यह सेल्फी ही उनकी आखिरी तस्वीर बन जाएगी। सुबह जात देने जाते वक्त कुटुंब के लोगों ने पूरे परिवार को हंसते-खेलते विदा किया था, मात्र डेढ़ घंटे बाद ही उनकी मौत की खबर पहुंच गई। सूचना मिलते ही सीता व विक्रम दोनों के गांवों के लोग स्तब्ध रह गए। दोनों परिवारों में करुण क्रंदन व चीत्कार मच गया। गांव के लोग जैसे-तैसे दोनों के परिवारों को संभालने में लगे हुए थे।  

शहर में शोक की लहर, होली के सभी धार्मिक आयोजन बंद
होली पर्व को लेकर बालोतरा के गांधीपुरा व उम्मेदपुरा में हर वर्ष माली समाज के तत्वावधान में फाग महोत्सव का आयोजन होता है। इसमें शहर सहित आस-पास के गांवों से लोग भाग लेकर गेर नृत्य की प्रस्तुति देते हैं। हादसे के बाद शोक स्वरूप दोनों ही जगहों पर लगे शामियाने हटाकर आयोजन बंद कर दिया गया।

किशोर के घर से एक साथ उठीं चार अर्थियां 

बालोतरा के मालियों का बास निवासी किशोर माली अपने साले विक्रम की शादी के बाद शनिवार सुबह जात देने के लिए रामदेवरा रवाना हुआ था। साथ में पत्नी विमला, पुत्र राशु व प्रतीप भी थे, हादसे में 4 सदस्यों की मौत हो गई। एक ही परिवार से एक साथ उठी अर्थियों को देखकर हर किसी की आंखें नम हो गईं।  हादसे की जानकारी के बाद केंद्रीय राज्य मंत्री कैलाश चौधरी घटनास्थल पर पहुंचे। बाद में अंत्येष्टि में भी शामिल हुए। वहीं विधायक मदन प्रजापत जयपुर से रवाना हुए। उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए सरकार की तरफ से हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। दुर्घटना के बाद पूर्व मंत्री अमराराम चौधरी, कनाना मठ महंत परशुराम गिरी, स्थानीय जनप्रतिनिधि,पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों सहित बड़ी संख्या में स्थानीय लोग दोनों शोक संतप्त परिवारों को ढांढ़स बंधाने पहुंचे।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें