Hindi News »Rajasthan »Kareda» मांडल के 35 व आसींद के 18 गांवों में चंबल का पानी, बदनौर में इसी सप्ताह

मांडल के 35 व आसींद के 18 गांवों में चंबल का पानी, बदनौर में इसी सप्ताह

करेड़ा व बेमाली में जल्दी बंद हो सकते हैं टैंकर भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा शहर के बाद अब ग्रामीण क्षेत्रों...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 04:35 AM IST

करेड़ा व बेमाली में जल्दी बंद हो सकते हैं टैंकर

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

शहर के बाद अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी चंबल के पानी से लोगों की प्यास बुझने लगी है। चंबल प्रोजेक्ट से मांडल के 35 व आसींद के 18 गांवों में पानी पहुंचने लगा है। समस्याग्रस्त बदनौर में सप्ताह के आखिर तक टंकी में पानी पहुंच जाएगा।

करेड़ा व बेमाली गांवों में भी पर्याप्त मात्रा में पानी मिलने लगा है। चंबल प्रोजेक्ट के एसई डी के मित्तल ने बताया कि मांडल के साथ ही आसपास के 35 गांवों में चंबल का पानी पहुंच चुका है। इसके चलते पेयजल संकट से जूझ रहे ग्रामीणों को राहत मिली है।

इसी तरह आसींद के साथ ही उसके आसपास के 18 गांवों में भी चंबल का पानी पहुंचने से संकटग्रस्त गांवों में हालात सुधरे है। जिले के सबसे अधिक संकटग्रस्त कस्बे बदनौर में पंपिग स्टेशन तक चंबल का पानी पहुंच चुका है। सप्ताह के आखिरी में टंकी तक पानी पहुंचा सप्लाई करने का प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा टैंकरों से जलापूर्ति की जा रही करेड़ा कस्बे व बेमाली में भी चंबल का पर्याप्त पानी पहुंच चुका है। ऐसे में शुक्रवार तक समीक्षा कर जलापूर्ति सुचारु रही तो टैंकरों का उपयोग रोक देंगे।

आजादनगर, पटेलनगर व जाटों का खेड़ा में आज जलापूर्ति नहीं

चंबल पंप हाउस किशनावतों की खेड़ी से मीरा सर्किल व एफ सेक्टर आजादनगर स्थित टंकियों को भरने वाली राइजिंग लाइन में सोमवार शाम मीरा सर्किल के पास लीकेज हो गया। टंकियां खाली रह जाने से मंगलवार को कुछ जगह जलापूर्ति नहीं होगी। पीएचईडी के एईएन बंशी सैनी ने बताया कि लीकेज के कारण आजादनगर के सेक्टर डी, ओ, पी व क्यू, जाटों का खेड़ा, आजादनगर ई, एफ, जी, आई, जे, के सेक्टर तथा पटेलनगर के सेक्टर सात, आठ व नौ में जलापूर्ति नहीं होगी। अब यहां बुधवार को निश्चित समय पर जलापूर्ति होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kareda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×