• Home
  • Rajasthan News
  • Karoli News
  • भारत बंद के लिए पुलिस-प्रशासन ने की तैयारियां, तैनात रहेंगे पुलिस के जवान
--Advertisement--

भारत बंद के लिए पुलिस-प्रशासन ने की तैयारियां, तैनात रहेंगे पुलिस के जवान

अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार अधिनियम निवारण 1989 धारा 3 को निष्प्रभावी करने के विरोध में पूर्व घोषित 2 अप्रेल को...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:00 AM IST
अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार अधिनियम निवारण 1989 धारा 3 को निष्प्रभावी करने के विरोध में पूर्व घोषित 2 अप्रेल को भारत बंद के तहत सोमवार को करौली जिला मुख्यालय बंद रखने का एसटी-एसी संघ ने आह्वान किया है। साथ ही विभिन्न व्यापारिक संगठनों से मिलकर एसटी-एससी संयुक्त संघर्ष समिति करौली के पदाधिकारियों ने बंद को सफल बनाने की अपील की। इधर, शहर के वस्त्र व्यापार, सर्राफा संघ व गुर्जर महासभा के अलावा विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने रविवार को जिला मुख्यालय पर सोमवार को सभी प्रतिष्ठानों को खुला रखने की दुकानदारों से अपील की और हरसंभव शांति व सुरक्षा व्यवस्था संभालने का भरोसा भी दिलाया।

बाजार बंद रखने की इन्होंने की अपील

भारत बंद के तहत बृजलाल डिकोलिया, डॉ.के.एल.मीना, जगमोहन जाटव सैंगरपुरा,अमृतलाल छाबड़ा, रूपसिंह मीना, विजय जाटव, दुर्गालाल फोरेस्टर, जगदीश जाटव, विकास नावल, उदयसिंह जाटव, सेवाराम मीना, लेखराम मीना आदि ने सोमवार को करौली में बाजार बंद रखने की विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों से अपील की और भारत बंद में सहयोग मांगा। अध्यक्ष बृजलाल डिकोलिया ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से बाजार बंद कराने की व्यापारियों से अपील की जाएगी।

व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले रखने का आह्वान

भारत बंद के विरोध में रविवार को शहर के वस्त्र, सर्राफा व्यापार संघ, गुर्जर महासभा व ब्राह्मण, अग्रवाल समाज के कई पदाधिकारियों व युवकों ने बाजारों में दौरा कर दुकानदारों से सभी प्रतिष्ठान खुले रखने का आह्वान किया। साथ ही शांति व सुरक्षा व्यवस्था की कमान युवाओं ने संभालने का जिम्मा लिया। वहीं सुप्रीम कोर्ट की पालना में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस-प्रशासन से भी बाजार में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात करने की मांग की है।

करौली. भारत बंद को सफल बनाने की रणनीति तय करते एसटी-एससी के लोग।

करौली. भारत बंद को सफल बनाने की रणनीति तय करते एसटी-एससी के लोग।

कार्यालय संवाददाता | करौली

अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार अधिनियम निवारण 1989 धारा 3 को निष्प्रभावी करने के विरोध में पूर्व घोषित 2 अप्रेल को भारत बंद के तहत सोमवार को करौली जिला मुख्यालय बंद रखने का एसटी-एसी संघ ने आह्वान किया है। साथ ही विभिन्न व्यापारिक संगठनों से मिलकर एसटी-एससी संयुक्त संघर्ष समिति करौली के पदाधिकारियों ने बंद को सफल बनाने की अपील की। इधर, शहर के वस्त्र व्यापार, सर्राफा संघ व गुर्जर महासभा के अलावा विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने रविवार को जिला मुख्यालय पर सोमवार को सभी प्रतिष्ठानों को खुला रखने की दुकानदारों से अपील की और हरसंभव शांति व सुरक्षा व्यवस्था संभालने का भरोसा भी दिलाया।

बाजार बंद रखने की इन्होंने की अपील

भारत बंद के तहत बृजलाल डिकोलिया, डॉ.के.एल.मीना, जगमोहन जाटव सैंगरपुरा,अमृतलाल छाबड़ा, रूपसिंह मीना, विजय जाटव, दुर्गालाल फोरेस्टर, जगदीश जाटव, विकास नावल, उदयसिंह जाटव, सेवाराम मीना, लेखराम मीना आदि ने सोमवार को करौली में बाजार बंद रखने की विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों से अपील की और भारत बंद में सहयोग मांगा। अध्यक्ष बृजलाल डिकोलिया ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से बाजार बंद कराने की व्यापारियों से अपील की जाएगी।

व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले रखने का आह्वान

भारत बंद के विरोध में रविवार को शहर के वस्त्र, सर्राफा व्यापार संघ, गुर्जर महासभा व ब्राह्मण, अग्रवाल समाज के कई पदाधिकारियों व युवकों ने बाजारों में दौरा कर दुकानदारों से सभी प्रतिष्ठान खुले रखने का आह्वान किया। साथ ही शांति व सुरक्षा व्यवस्था की कमान युवाओं ने संभालने का जिम्मा लिया। वहीं सुप्रीम कोर्ट की पालना में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस-प्रशासन से भी बाजार में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात करने की मांग की है।