--Advertisement--

लोक संस्कृति के बिखरे रंग, विजेता पुरस्कृत

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में बुधवार को वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ। प्रतिभागी स्टूडेंट्स ने...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:20 PM IST
राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में बुधवार को वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ। प्रतिभागी स्टूडेंट्स ने विभिन्न रंगारंग गायन, नृत्य व नाटक के जरिये लोकसंस्कृति को जीवंत कर दिया। उल्लास व उमंग के बीच प्रतिभागियों ने मनमोहक अंदाज में अभिनय कर श्रोताओं की खूब तालियां बटोरीं। वहीं नाटक व एकाभिनय के जरिये समाज में शिक्षा, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, महिला सशक्तिकरण, स्वच्छता अभियान आदि का अनूठा संदेश भी दिया। इस दौरान प्रतिभागी विजेताओं के साथ छात्रसंघ कार्यकारिणी पदाधिकारियों को अनुशासन में रहकर कार्य करने के लिए प्राचार्य बाबूसहाय मीना ने प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया।

कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम में महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। वहीं रंगारंग गायन व देशी अंदाज में नृत्य की पेशकश पर सभी दर्शक झूमने पर मजबूर हो गए। इसमें काव्यपाठ, वाद-विवाद, एकल गायन, विचित्र वेशभूषा व नृत्य आदि प्रतियोगिताओं में प्रतिभाओं ने अपने हुनर का प्रदर्शन किया। समारोह का शुभारंभ महाविद्यालय प्राचार्य बाबूसहाय मीणा, छात्रसंध अध्यक्ष अमित सिंह सहित छात्र संघ कार्यकारिणी के पदाधिकारियो ने किया। प्राचार्य बाबूसहाय मीना ने कहा कि ऐसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों से छात्रो की प्रतिभाओं को उभरने का मौका मिलता है। इससे प्रतिभागियों में आत्मविश्वास का संचार होता है भारतीय व लोकसंस्कृति जीवंत होती है। उन्होंने छात्रों से अनुशासन में रहने और मन लगाकर पढाई करने के साथ ही सामाजिक गतिविधयों में सहभागिता निभाने का आह्वान किया। अपनी रूचिकर विधा को निखारने की सीख भी दी। कार्यक्रम का संचालन बिजेंद्र प्रसाद मीना एवं सोनम बामनिया ने किया।

इस दौरान छात्रसंघ कार्यकारिणी पदाधिकारियों में अध्यक्ष अमितसिंह, उपाध्यक्ष चेतन दीक्षित, महासचिव अंकुशसिंह जादौन के अलावा हाकिमसिंह गुर्जर, शेरसिंह बैंसला आदि विशेष रूप से मौजूद थे।

करौली. राजकीय पीजी कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम देखने के लिए छात्र-छात्राओं का उमड़ा हुजूम।

कविता पाठ में सिद्धार्थ विजेता

सांस्कृतिक सचिव दामोदर मीना ने बताया कि प्रतियोगिताओं के निर्णायक प्रो.नत्थूसिंह, श्रीफल, मिथलेश गुप्ता, प्रेमलता वार्ष्णेय, हीरालाल, गोरेलाल, रामसिंह, प्रहलाद, कारूलाल, सोनम, रमेशी मीना ने विजेताओं का चयन किया। इसमें कविता पाठ में सिद्धार्थ गर्ग, नेहा गोयनका, हेमलता शाक्यवार, विवेक कौशिक और एकल गायन प्रतियोगिता में सिद्धार्थ गर्ग, हेमलता शाक्यवार, संतोष कुमार शर्मा, विचित्र वेशभूषा में नीलू गर्ग, निधि सिकरवार, ऋतु कंवर, एकल नृत्य प्रतियोगिता में पूजा महावर, लोकेश माली, निधि सिकरवार, धर्मचंद मीना विजेता रहे। इन सभी को प्राचार्य व अतिथियों ने पुरस्कृत किया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..