पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kariri News Rajasthan News At 12 O39clock A Young Man Drowned After Falling In The Pond

रात 12 बजे तालाब में गिरकर डूबा युवक, घरवाले बोले- पांव फिसलने से गिरा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गांव सोहाना में रहने वाला 23 साल का युवक अश्वनी खाना खाने के बाद टहलने के लिए गया था। लेकिन गांव के तालाब के पास वह बाथरुम करने के लिए रुका और पैर स्लिप होने के कारण वह तालाब में जा गिरा। वहां से गुजर रहे युवकों ने जब यह देखा तो अश्वनी को बचाने का प्रयास भी किया, लेकिन वह तालाब के अंदर चला गया था। इसके बाद युवकों ने शोर मचाया और पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। मौके पर पीसीआर पार्टी और सोहाना थाना पुलिस पहंुची।

तालाब में डूबे युवक को तलाश करने के लिए स्विमिंग पूल से ट्यूब्स मंगवाई गई। यहां तक फायर ब्रिगेड भी मौके पर आई। लेकिन जब शव का कुछ पता नहीं चला तो फिर रोपड़ से तीन गोताखोर मंगवाए गए और तीनों गोताखोरों ने सुबह करीब पौने 6 बजे करीब 20 मिनट की सर्च के बाद तालाब के नीचे दलदल में फंसे अश्वनी का शव निकाल लिया। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने इस मामले में सीआरपीसी की 174 के तहत कार्रवाई की है।

सूत्रों की माने तो अश्वनी की दो साल पहले ही शादी हुई थी। वह ऑटो चलाकर अपने घर का खर्च चलाता था। सूत्रों के अनुसार गत रात उसकी मां से किसी बात को लेकर बहस हुई और इसी कारण उसने गुस्से में तालाब में छलांग लगा दी। बाहर इसलिए नहीं निकल पाया उसको एक तो तैरना नहीं आता था, ऊपर से गाद में वह फंस गया। डूबने के कारण उसकी उसी समय मौत हो गई। मां-बेटे की बहस को लेकर इन्वेस्टिगेशन आॅफिसर बलजिंदर सिंह ने साफ मना कर दिया कि ऐसी कोई बात नहीं हुई।

बाथरूम करने के लिए गया था...

इंवेस्टिगेशन आॅफिसर एएसआई बलजिंदर सिंह ने बताया कि पुलिस को मंगलवार रात करीब 12 के करीब सूचना मिली थी। मौके पर टीम गई और फायर ब्रिगेड को बुलाया गया। फायरब्रिगेड में आफिसर कर्मचंद सूद अपनी टीम के साथ तालाब में उतरे। एक घंटे तक पूरी फायरब्रिगेड की टीम शव को तलाश करती रही। लेकिन जब कुछ नहीं पता चला तो फिर पीसीआर इंचार्ज अजय पाठक ने स्विमिंग पूल से टीम व ट्यूब मंगवाई। लेकिन वह टीम भी शव की तलाश नहीं कर पाई।

सुबह बुलाए रोपड़ से गोताखोर... बुधवार तड़के गांववालों की मदद से गोताखोरों को मंगवाया गया। तीन गोताखोर मौके पर आए और करीब 20 मिनट की सर्च के बाद पानी के नीचे दलदल में फंसे शव को बाहर निकाल लिया। इस पूरी सर्च ऑप्रेशन में गांव के लोगों ने भी पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम का साथ दिया। फायर ब्रिगेड की टीम तो ऐसे की तालाब में उतर गई लेकिन तालाब गहरा अौर नीचे दलदल व गाद होने के कारण शव को तलाश नहीं पाए। इसी कारण गोताखोरों को बुलवाने का फैसला लिया गया। रात करीब 12 बजे शुरु हुआ सर्च ऑप्रेशन तड़के 6 बजे तक चला।

खबरें और भी हैं...