पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Karauli News Rajasthan News District Administration Cautious Appeals To Common People Not To Come Out Of Homes

जिला प्रशासन सतर्क, आमजन से घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित किए जाने के बाद जिले में जिला प्रशासन पूरी तरह सतर्क बना हुआ है। जिला प्रशासन ने आम जन से अपने घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील करते हुए कोरोना वायरस से संबंधित कई कंट्रोल कक्ष स्थापित किए हैं। साथ ही जिले के सभी अधिकारी-कर्मचारियों को मुख्यालय नहीं छोड़ने के लिए पाबंद किया है।

कलेक्टर डॉ.मोहनलाल यादव ने बताया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए एवं आमजन के हित को ध्यान में रखते हुए बहुत प्रयास किए जा रहे हैं। जिले में धारा 144 लागू की जा चुकी है, सभी शैक्षणिक संस्थान बंद हैं व कैलादेवी मेला भी स्थगित किया जा चुका है। उन्होंने आमजन से राज्य सरकार के नियमों की पालना करने की अपील की है। उन्होंने बताया कि आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 के तहत सभी राजकीय विभागों के कार्मिक जब तक किसी कार्मिक विशेष के संबंध में चिकित्सा विभाग अथवा संबंधित उपखंड मजिस्ट्रेट अपने-अपने उपखंड में संतुष्ट नहीं होगे तब तक कार्मिकों के मुख्यालय छोड़ने पर प्रतिबंध रहेगा।

कलेक्टर डा.यादव ने बताया कि जिले में शटडाउन प्रक्रिया में 50 प्रतिशत कार्मिक घर पर रहकर राजकीय कार्य कर सकेंगें तथा 50 प्रतिशत कार्मिक कार्यालय में उपस्थिति देंगे। उन्होंने बताया कि कार्मिक इस शटडाउन को अवकाश नहीं मानते हुए मात्र संक्रमण से रोकथाम की मंशा से संक्रमण नहीं फैले इस बाबत नियंत्रण अधिकारी से सूचना अथवा आदेश होने पर कार्यालय में राजकीय कार्य के लिए सर्वे निरीक्षण अथवा कोरोना बीमारी से संबंधित प्रचार प्रसार करने व सूचना संकलित करने के लिए उपलब्ध होंगे।

कोरोना संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर स्वयं को किसी के संपर्क में नहीं आने दें : डा.यादव ने बताया कि धारा 144 के तहत जिले में विदेश या अन्य प्रान्तों से आने वाले यात्रियों के रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड पर स्क्रीनिंग के दौरान संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर ऐसे व्यक्ति 14 दिन तक होम क्वारिन्टाइन में रहेगा व किसी के संपर्क में नही आएगा। साथ ही चिन्हित संदिग्ध कोरोना व्यक्ति के हाथ पर अमिट स्याही का निशान अंकित किया जाएगा।

दुष्प्रचार करने वालों के खिलाफ होगी कार्यवाही : जिला मजिस्ट्रेट डा.यादव ने बताया कि कोई भी व्यक्ति या संस्था नोबल कोरोना वायरस के संक्रमण के संबंध में दुष्प्रचार व तथ्यहीन समाचार, सूचनाओं का आदान-प्रदान, ऑडियो वीडियो, सीडी, इंटरनेट, सोशल मीडिया यथा फेसबुक, ट्वीटर, व्हाटसएप, यू-ट्यूब अथवा अन्य किसी भी माध्यम से नहीं करेगा। इसका उल्लंघन पाए जाने पर आईटी एक्ट के तहत विधिक कार्यवाही की जाएगी। साथ ही संक्रमण को रोकने के लिए प्रार्थना स्थल, गुरुद्वारे, मंदिर मस्जिदों आदि में लोगों को एकत्रित नहीं होने दिया जाए।

पीड़ित व्यक्ति की चिकित्सा से नहीं करें इंकार : कलेक्टर ने बताया कि नोबल कोरोना वायरस से पीड़ित या संदिग्ध व्यक्ति जो चिकित्सकीय संस्थान में चिकित्सा के लिए उपस्थित होता है तो जिले में उपस्थित कोई भी राजकीय व निजी चिकित्सा संस्थान का मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ चिकित्सा के लिए इंकार नहीं करेगा। इसका उल्लंघन किए जाने पर संबंधित चिकित्सा संस्था व चिकित्साकर्मी के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल
स्कूल को किया अधिग्रहण


कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट मोहनलाल यादव ने करौली जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण के संदिग्ध व्यक्तियों की चिकित्सकीय देखरेख व एकांत व्यवस्था के लिए स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल करौली के भवन को अधिग्रहित किया है।

कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की जांच
के लिए कार्मिक नियुक्त


कलेक्टर ने जिले में पाए गए 17 संदिग्ध व्यक्तियों में संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर 14 दिवस की अवधि के लिए पूरी तरह होम क्रैटाइंन में रहने के दौरान स्वास्थ्य जांच के लिए चिकित्सा विभाग द्वारा 24 घंटे पृथक पृथक चिकित्साकर्मियों की तीन पारियों में नियुक्ति की गई है। उक्त चिकित्साकर्मी द्वारा व्यक्तियों के क्रिया कलापों पर प्रभावी नियंत्रण कर चिकित्सा सुविधा दी जाएगी।

स्क्रीनिंग के लिए कंट्रोल रूम स्थापित

कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित किया जा चुका है। पिछले 14 दिनों में भीलवाडा, झुंझनू व अन्य राज्य व विदेश से आने वालों की सूचना आमजन ग्रामीण सहित उसकी तत्काल प्रभाव से स्क्रीनिंग कराने के लिए संदिग्ध की सूचना जिला प्रशासन व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कंट्रोल रूम पर दे सकते हैं। कलेक्टर डा.यादव ने बताया कि जिला स्तरीय कंट्रोल रूम का नंबर 07464-251335 है एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कंट्रोल रूम का नंबर 7374009222 है। इसी प्रकार कारागृह करौली उप कारागृह हिंडौन परिसर में कोई भी व्यक्ति कोरोना वायरस से संदिग्ध पाया जाता है तो उसकी तत्काल प्रभाव से स्क्रीनिंग कराने के लिए उस संदिग्ध व्यक्ति की सूचना जिला स्तरीय कंट्रोल रूम पर दे सकते हैं।

खबरें और भी हैं...