मंत्री ने पुलिस पर उठाए सवालिया निशान तो 7 दिन में आरोपितों को किया गिरफ्तार

Karoli News - बाेलेरो चालक का अपहरण कर हत्या करने के मामले में 4 माह से आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने तथा पुलिस द्वारा मिलीभगत...

Dec 04, 2019, 10:26 AM IST
बाेलेरो चालक का अपहरण कर हत्या करने के मामले में 4 माह से आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने तथा पुलिस द्वारा मिलीभगत कर बेकसूर युवक को हत्या के मामले में फसाने की साजिश की खाद्य आपूर्ति एवं नागरिक मंत्री रमेश मीना द्वारा मुख्यमंत्री से शिकायत करने पर पुलिस ने 7 दिन के अंदर ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि गत दिनो जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान खाद्य आपूर्ति एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश मीना ने पुलिस पर ही सवाल उठाते हुए 31 जुलाई 2019 को करौली जिले के थाना मासलपुर क्षेत्र के गांव खेडा के पास से करौली-धाैलपुर नेशनल हाईवे से सुबह 5 बजे एक बोलेरो चालक जमनालाल मीना निवासी मोठियापुरा थाना सरमथुरा का जबरन अपहरण कर बोलेरो में डालकर ले जाने एवं 3 किमी आगे जाकर सड़क के किनारे गोली मारकर हत्या करने के मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं किए जाने एवं आरोपियों के स्थान पर मासलपुर पुलिस द्वारा एक बेकसूर युवक को फंसाने का आरोप लगाया और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से शिकायत करने की बात कही।

मंत्री रमेश मीना ने बताया कि इस घटना का मामला मासलपुर थाने में मृतक जमनालाल के भाई पप्पू पुत्र रामबक्स मीना ने दर्ज कराया था। जिसमें गांव मोठियापुरा के विजय सिंह, कमलसिंह, वनसिंह उर्फ विष्णु तथा रामसहाय मीना को नामजद किया था लेकिन 4 महीने बाद भी पुलिस ने इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं की बल्कि एक युवक को 10 दिन से थाने पर बैठा रखा था। मंत्री रमेश मीना द्वारा इस हत्या के मामले की जांच की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से शिकायत की। जिस पर पुलिस ने 7 दिन में ही कार्रवाई करते हुए आरोपियों को धरदबोचा।

सदर थानाधिकारी विजय सिंह छोंकर ने बताया कि पीडित पक्ष के पप्पू पुत्र रामबक्स मीना एवं आरोपी पक्ष विजय सिंह पुत्र श्रीपत मीना के बीच पिछले कई सालों से रंजिश चली आ रही थी। इसी रंजिश के चलते आरोपी विजय सिंह ने अपने भाई विष्णु उर्फ वनसिंह, कमलसिंह तथा अपने साथी रामसहाय मीना, खिल्लू, अनिल मीना तथा अन्य साथियों के साथ मिलकर जमनालाल का अपहरण कर हत्या करने की योजना बनाई और योजना के अनुसार 31 जुलाई 2019 को सुबह 5 बजे करौली-धौलपुर रोड स्थित खेडा तिराहे से जमनालाल का अपहरण कर ले गए और उसकी गोली मार कर हत्या कर दी और आरोपी फरार हो गए। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार बेनीवाल ने उपाधीक्षक बाबूलाल मीना के नेतृत्व में एक टीम गठित की। जिसमें मासलपुर थानाधिकारी रामवीर सिंह, करौली सदर थानाधिकारी विजय सिंह, लांगरा थानाधिकारी दिनेश मीना, मंडरायल थानाधिकारी महेन्द्र सिंह, कुड़गांव थानाधिकारी ओमेन्द्र सिंह तथा साइबर सैल के प्रभारी हैडकांस्टेबल घनश्याम की टीम ने कॉल डिटेल के आधार पर आरोपी रामसहाय पुत्र हजारी मीना निवासी मोठियापुरा, खिल्लू पुत्र भरती मीना बर्रिया थाना कुड़गांव, अनिल पुत्र जयसिंह मीना कारवाड़ हाल निवासी तीन बड़ को गिरफ्तार कर लिया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना