आवासीय विद्यालय 5 वर्ष बाद भी पूर्ण नहीं

Karoli News - भास्कर न्यूज|श्रीमहावीरजी ग्रामीण रानौली गाँव में राज्य सरकार द्वारा 12 करोड़ की लागत से 35 बीघा जमीन पर एकलव्य...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 05:36 AM IST
Ranoli News - rajasthan news residential school is not completed even after 5 years
भास्कर न्यूज|श्रीमहावीरजी ग्रामीण

रानौली गाँव में राज्य सरकार द्वारा 12 करोड़ की लागत से 35 बीघा जमीन पर एकलव्य आवासीय विद्यालय का निर्माण कर 480 बालकों की क्षमता वाला भवन सत्र 2016 तक पूर्ण होना था, मगर पूरा नहीं बन पाया है। अपूर्ण आवासीय विद्यालय संवेदक द्वारा विभाग को सुपर्द कर इतिश्री कर ली।

शिक्षा विभाग द्वारा सत्र 2017 से विद्यालय प्रारम्भ कर दिया। आवासीय विद्यालय में छात्र व छात्राओं को अलग अलग होस्टल व क्वाटर भी पूर्ण नहीं होने ने विद्यार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आवासीय विद्यालय में खेल मैदान की कमी आवासीय विद्यालय में खेल मैदान नही है। छात्रों को खेल मैदान नहीं होने से छात्र खेल व अन्य प्रतियोगिताओं में भाग नहीं ले सकते हैं।

एक्सप्रेस फीडर होने के बाद भी अघोषित बिजली कटौती

राज्य सरकार द्वारा छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक्सप्रेस फीड़र स्वीकृत है। विद्युत विभाग जब चाहे तब ही विद्युत कटौती कर देता है, जिससे छात्रों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आदेश के बाद भी छात्रों को नहीं मिल रहा है मीठा पानी

राज्य सरकार के आदेश के बाद भी जलदाय विभाग द्वारा आवासीय विद्यालय में छात्रों को पेयजल व्यवस्था के लिए उच्च जलाशय से नही जोड़ा गया है । विद्यार्थियों को टैकरों से पानी डलवा कर पेयजल आपूर्ति होती है।

आवासीय विद्यालय में 480 विद्यार्थियों के लिए12करोड़ की लागत से 84कमरों का निर्माण होना था,जिसमें से 24 कमरों का ही निर्माण हुआ है। जिससे 172 विद्याार्थी ही रह रहे है। संवेदक द्वारा इस कार्य. को पूर्ण करने में कोई रूचि नही दिखलाई गई है। कार्य पूर्ण नहीहोने से छात्रों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

भास्कर न्यूज|श्रीमहावीरजी ग्रामीण

रानौली गाँव में राज्य सरकार द्वारा 12 करोड़ की लागत से 35 बीघा जमीन पर एकलव्य आवासीय विद्यालय का निर्माण कर 480 बालकों की क्षमता वाला भवन सत्र 2016 तक पूर्ण होना था, मगर पूरा नहीं बन पाया है। अपूर्ण आवासीय विद्यालय संवेदक द्वारा विभाग को सुपर्द कर इतिश्री कर ली।

शिक्षा विभाग द्वारा सत्र 2017 से विद्यालय प्रारम्भ कर दिया। आवासीय विद्यालय में छात्र व छात्राओं को अलग अलग होस्टल व क्वाटर भी पूर्ण नहीं होने ने विद्यार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आवासीय विद्यालय में खेल मैदान की कमी आवासीय विद्यालय में खेल मैदान नही है। छात्रों को खेल मैदान नहीं होने से छात्र खेल व अन्य प्रतियोगिताओं में भाग नहीं ले सकते हैं।

एक्सप्रेस फीडर होने के बाद भी अघोषित बिजली कटौती

राज्य सरकार द्वारा छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक्सप्रेस फीड़र स्वीकृत है। विद्युत विभाग जब चाहे तब ही विद्युत कटौती कर देता है, जिससे छात्रों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आदेश के बाद भी छात्रों को नहीं मिल रहा है मीठा पानी

राज्य सरकार के आदेश के बाद भी जलदाय विभाग द्वारा आवासीय विद्यालय में छात्रों को पेयजल व्यवस्था के लिए उच्च जलाशय से नही जोड़ा गया है । विद्यार्थियों को टैकरों से पानी डलवा कर पेयजल आपूर्ति होती है।

आवासीय विद्यालय में 480 विद्यार्थियों के लिए12करोड़ की लागत से 84कमरों का निर्माण होना था,जिसमें से 24 कमरों का ही निर्माण हुआ है। जिससे 172 विद्याार्थी ही रह रहे है। संवेदक द्वारा इस कार्य. को पूर्ण करने में कोई रूचि नही दिखलाई गई है। कार्य पूर्ण नहीहोने से छात्रों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

श्रीमहावीरजी ग्रामीण|रानौली गांव में एकलव्य आवासीय विद्यालय 5 साल में भी अधूरा है।

X
Ranoli News - rajasthan news residential school is not completed even after 5 years
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना