ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों के सपनों को श्याम यूनिवर्सिटी लगाएगी हौसलों के पंख

Karoli News - लालसोट के देहलाल डीडवाना स्थित यूजीसी, एआईसीटीई, एनसीटीई, पीसीआई व बीसीआई से मान्यता प्राप्त श्याम यूनिवर्सिटी...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:10 AM IST
Karauli News - rajasthan news shyam university will set up dreams of rural areas students
लालसोट के देहलाल डीडवाना स्थित यूजीसी, एआईसीटीई, एनसीटीई, पीसीआई व बीसीआई से मान्यता प्राप्त श्याम यूनिवर्सिटी शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी। जिसका फायदा आगामी दिनों में प्रदेशभर के छात्र-छात्राओं को हो सकेगा।

श्याम यूनिवर्सिटी निदेशक लोकेश शर्मा ने बताया कि कि ग्रामीण क्षेत्र में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है, लेकिन अब तक उपयुक्त माध्यम के अभाव में उन्हें सही मुकाम हासिल नहीं हो पा रहा था। श्याम यूनिवर्सिटी ने ऐसे जरूरतमंद व होनहार छात्र-छात्राओं व उनके परिजनों के सपनों को साकार करने में सेतु की भूमिका निभाएगा। उन्होंने बताया कि अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त श्याम यूनिवर्सिटी ग्रामीण परिवेश में शिक्षा का एक नायाब उदाहरण पेश करेगी, जिसमें सभी सुविधाओं के साथ गुणात्मक शिक्षा का समावेश होगा। जिससे अब होनहार प्रतिभाओं को ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों की ओर पलायन नहीं करना पड़ेगा। पूर्वी राजस्थान (दौसा, करौली, सवाईमाधोपुर, भरतपुर व धौलपुर) के इस प्रथम निजी विश्वविद्यालय में सभी व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के अध्ययन की सुविधा मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि श्याम यूनिवर्सिटी में बीए, एम ए, बीकॉम, एमकॉम, बीएससी, एमएससी, पॉलिटेक्निक, बीटेक, एमटेक, बीए एलएलबी, बीपीटी, बी लिब, एमलिब, डी फार्मा, बी फार्मा, बीसीए, एमसीए, पीजीडीसीए, बीएससी एमएलडी, एमएससी, बीएड, एम एड, एमबीए, बीबीए, बीबी सी, एमबीए, एग्री बिजनेस, बीएससी इंजीनियरिंग, एमएससी इंजीनियरिंग, बीएसडब्ल्यू, एमएसडब्ल्यू, फायर ऑफिसर, बीएससी फायर एंड सेफ्टी, पीएचडी, आईटीआई इलेक्ट्रिशियन, सहित दर्जनों कोर्सेज होंगे। जिनकी प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। कोर्सेज के अनुसार योग्य छात्र-छात्राओं को राज्य सरकार द्वारा समाज कल्याण विभाग से छात्रवृत्ति की भी सुविधा मिलेंगे। श्याम विश्वविद्यालय राजस्थान का ऐसा प्रथम संस्थान है जिसने अपनी स्थापना के मात्र 8 माह की अवधि में ही यूजीसी की मान्यता प्राप्त की तथा एआईसीटीई भारत सरकार की मान्यता इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रमों के लिए प्राप्त कर ली हैं। इसी तरह फार्मेसी कौंसिल ऑफ इंडिया से डी. फार्मा व बी. फार्मा की मान्यता प्राप्त की। एनसीटीई भारत सरकार से बीएसटीसी व बीएड की मान्यता प्राप्त की। इस यूनिवर्सिटी में रोजगारपरक पाठ्यक्रमों पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है। विद्यार्थियों के प्लेसमेंट के लिए विभिन्न कंपनियों को कैंपस में बुलाकर प्लेसमेंट कराए जा रहे हैं। वर्ष 2010 से श्याम पॉलीटेक्निक कॉलेज से पास सैकड़ों विद्यार्थी आज सरकारी नौकरियों पर कार्य कर रहे हैं।

श्याम यूनिवर्सिटी में 25 जुलाई से पहले प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को चयनित पाठ्यक्रमों में आधी फीस पर प्रवेश दिए जा रहे हैं।

X
Karauli News - rajasthan news shyam university will set up dreams of rural areas students
COMMENT