• Home
  • Rajasthan News
  • Karoli News
  • Karauli - पंस में विभिन्न संचार कंपनियों के प्रतिनिधियों ने लगाईं स्टॉलें, सिम के साथ स्कीम की दी जानकारी
--Advertisement--

पंस में विभिन्न संचार कंपनियों के प्रतिनिधियों ने लगाईं स्टॉलें, सिम के साथ स्कीम की दी जानकारी

राज्य सरकार ने डिजिटल क्रांति के दौर में आमजन को जोड़ने के लिए भामाशाह डिजिटल परिवार योजना प्रारंभ की है। इसके तहत...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 03:00 AM IST
राज्य सरकार ने डिजिटल क्रांति के दौर में आमजन को जोड़ने के लिए भामाशाह डिजिटल परिवार योजना प्रारंभ की है। इसके तहत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) अर्थात जिन परिवारों को राशन मिलता है, ऐसे परिवार की भामाशाह कार्ड की मुखिया के बैंक खाते में सरकार दो किश्तों में 500-500 रुपए दे रही है। ताकि, हर परिवार स्मार्टफोन व इंटरनेट कनेक्शन की सुविधा का सुलभता से उपभोग कर सके। पंचायत समिति अटल सेवा केंद्र पर सोमवार को 1095 रुपए में जिओ फोन व सिम लेने के लिए ग्रामीणों की काफी भीड़ उमड़ी। वहीं अन्य संचार सेवा प्रदाता कंपनियों के प्रतिनिधियों की भी स्टॉलें लगीं,जिन पर भी सिम व जानकारी दी गई। इस स्कीम के तहत सभी ग्राम पंचायतों में अटल सेवा केंद्र व ई-मित्र पर जिओ फोन व सिम वितरण का कार्य प्रारंभ हो गया है। जिओ डिजिटल लाइफ वाले फोन में छह महीने अनलिमिटेड कॉल व इंटरनेट (126 जीबी) की सुविधा मिलेगी। ब्लॉक के सांख्यिकी निरीक्षक मनीष खंडेलवाल ने बताया कि हर ब्लॉक में दो दिन के कैंप आयोजित होंगे, सोमवार को करौली ब्लॉक का पंचायत समिति में कैंप एसीपी विनोद कुमार मीना के निर्देशन में संपन्न हुआ। उन्होंने बताया कि बुधवार को मासलपुर में शिविर लगेगा। हालांकि,ओपन मार्केट से भी पात्र परिवार लाभांवित हो सकते हैं।

हर पात्र परिवार को पहली किश्त के मिल रहे है पैसे

इस योजनांतर्गत एनएफएसए में शामिल प्रत्येक भामाशाह कार्डधारी मुखिया महिला के भामाशाह खाते में सरकार पहली किश्त के रूप में 500 रुपए दे रही है, भले ही कोई फोन ले या नहीं। इसके लिए कोई आवेदन करने की जरूरत नहीं है। जिले में कइयों के खाते में पहली किश्त की राशि डाल दी गई है। इसमें ऐसी कोई बाध्यता भी नहीं है कि जिओ का ही मोबाइल खरीदा जाए, कोई भी पसंद का स्मार्ट फोन व इंटरनेट सेवा का लाभ लिया जा सकता है।

एेप डाउनलोड करने पर ही मिलेगी दूसरी किस्त

स्कीम के तहत लाभार्थी को अपने वर्तमान में चालू या नये स्मार्टफोन पर राज्य सरकार के मोबाइल एप ई-मित्र,भामाशाह वॉलेट, राजस्थान संपर्क व राज मेल एप डाउनलोड करना जरूरी होगा। इन सभी में स्मार्ट फोन रजिस्टर करने की सुविधा है, किसी एक भी एप के एसएसओ लॉगइन पर रजिस्टर्ड होने पर सरकार की ओर से दूसरी किस्त के 500 रुपए खाते में मिल जाएंगे।