--Advertisement--

दंगाइयों के खिलाफ 18 मामले दर्ज, 83 गिरफ्तार

अलवर. सर्किट हाउस में कलेक्टर व एसपी की मौजूदगी में चर्चा करता प्रतिनिधिमंडल। भास्कर संवाददाता | अलवर सोमवार...

Danik Bhaskar | Apr 04, 2018, 05:00 AM IST
अलवर. सर्किट हाउस में कलेक्टर व एसपी की मौजूदगी में चर्चा करता प्रतिनिधिमंडल।

भास्कर संवाददाता | अलवर

सोमवार को भारत बंद के दौरान हुई घटनाओं में शामिल दंगाइयों के खिलाफ पुलिस ने अलग-अलग 18 मामले दर्ज किए हैं। जबकि 83 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है।

एसपी राहुल प्रकाश ने बताया कि उपद्रवियों के खिलाफ 6 मामले पुलिस द्वारा अलग-अलग थानाें में दर्ज किए हैं। जबकि 3 अन्य मामले विभिन्न विभागों द्वारा दर्ज कराए गए हैं। जिलेभर में दंगाइयों के खिलाफ 9 लोगों ने मामले दर्ज कराए गए हैं। एसपी ने बताया कि जिलेभर में भारत बंद के दौरान हुए उपद्रव में 38 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और 83 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए अलवर व खैरथल में पुलिस कर्मियों ने अपनी सर्विस रिवाल्वर व पिस्टल से 59 राउंड फायर किए हैं। जबकि 12 बोर से 60 राउंड फायरिंग की गई। इसके अलावा 39 आंसू गैस के गोले दागे गए। उन्होंने बताया कि उपद्रव के दौरान 3 पुलिस की गाड़ियों को उपद्रवियों ने आग के हवाले किया। दंगाइयों ने पुलिस थानों में जब्तशुदा 39 वाहन जलाए थे तथा 25 निजी वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं।

हिंडौन में हिंसा से अलवर की बस करौली में फंसी, 8 बसें नहीं चलीं

भारत बंद में सोमवार को हुई हिंसा के विरोध में दूसरे दिन मंगलवार को हिंडौनसिटी में बंद के दौरान अलवर की एक रोडवेज बस करौली में फंस गई। अलवर से हिंडौन, महावीरजी, करौली व कैलादेवी जाने वाली 8 बसों का संचालन नहीं हुआ। इससे यात्रियों को परेशानी हुई। अलवर के यातायात प्रबंधक सुनील भगवती ने बताया कि हिंडौन में हिंसा के कारण एक बस करौली से नहीं वापस अलवर नहीं आ सकी। यात्रियों की सुविधा के लिए बसों को अलवर-महवा-अलवर के बीच चलाया गया। मंगलवार को सुरक्षा की दृष्टि से रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर पुलिस बल तैनात रहा।

धरने पर बैठे लोगों को पुलिस ने डंडे मारकर खदेड़ा

राजीव गांधी सामान्य अस्पताल के बाहर धरने पर बैठे लोगों को मंगलवार सुबह पुलिस ने डंडे मारकर खदेड़ दिया। ये लोग खैरथल में गोली लगने से मरे युवक पवन के परिजनों को मुआवजा, सरकारी नौकरी और निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे थे। पुलिस ने पहले तो मृतक के परिजनों के साथ एकत्र लोगों को अस्पताल परिसर से बाहर निकाला। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष टीकाराम जूली और पूर्व जिला प्रमुख साफिया खान को भी बाहर निकाल दिया।

खैरथल. एससी समाज के लोग कस्बे में सोमवार को तोड़फोड़ व उत्पात मचाने के आरोप में थाने में बंद ।

पवन का शव झाड़ोली पहुंचा, तो मच गया कोहराम

खैरथल | भारत बंद के दौरान भड़की हिंसा में गोली लगने से मरे युवक पवन का मंगलवार देर शाम शव झाड़ोली गांव में अंतिम संस्कार किया गया। शाम को प्रशासन से समझौते के बाद पवन का शव झाड़ोली गांव पहुंचने पर कोहराम मच गया। मृतक पवन के परिजनों, मित्रों व महिलाओं का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। मृतक का भाई दीपक बेहोश हो गया, जिसे पड़ोस के एक घर में ले जाकर प्राथमिक उपचार किया गया। झाड़ोली में शाम 7.10 बजे शवयात्रा शुरू हुई। इसके बाद अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले गांव में मृतक के घर लोगों का हुजूम सांत्वना देने के लिए उमड़ पड़ा। अंतिम संस्कार के दौरान लोगों ने मृतक पवन के जिंदाबाद व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस अवसर पर सांसद डॉ. करणसिंह यादव, अलवर ग्रामीण विधायक जयराम जाटव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष टीकाराम जूली, दलित नेता सूरजमल कर्दम, निहालचंद, सुभाष भारती, कांग्रेस जिला महासचिव बलराम यादव, प्रेम पटेल, मेव पंचायत सदर शेर मोहम्मद, मेहरदीन खान व टिंकू सरदार आदि मौजूद थे।

अस्पताल में उलझते विधायक जाटव और कांग्रेस जिलाध्यक्ष जूली को शांत करते डीएसपी।

खैरथल. मंडी में मंगलवार को दूसरे दिन भी सुलगती रही कपास।

तोड़फोड़ व आगजनी को लेकर लोगों में आक्रोश

खैरथल | भारत बंद के तहत बंद समर्थकों की और से की गई तोड़फोड़, आगजनी व लूटपाट के विरोध में मंगलवार को भी कस्बा सहित आसपास के क्षेत्र में लोगों में आक्रोश दिख्राई दिया। दिनभर लोग बंद समर्थकों की निंदा व करते नजर आए।

कपास में लगाई आग दूसरे दिन भी सुलगती रही : दंगाइयों की ओर से नई अनाज मंडी में उपद्रव व तोड़फोड के दौरान कपास की गांठों पर लगाई आग दूसरे दिन भी सुलगती रही। जबकि सोमवार देर रात तक टैंकरों की सहायता से कपास में लगी आग काबू पाया था। दंगाइयों ने अंकेश्वर इंडस्ट्रीज के सामने रखी कपास में आग लगाई थी। आग लगने से कपास की 422 गांठें जल गई। इनकी कीमत करीब 20 लाख रुपए है।

अलवर. अस्पताल के बाहर धरना दे रहे लोगों को धक्का देकर खदेड़ते क्यूआरटी के जवान।

जूली : जब समाज पर गोलियां चल रही तब कहां गए जाटव : पहले गोली चलवाई, अब समझौता कराने आए

अलवर | राजीव गांधी सामान्य अस्पताल के पीएमओ चैंबर में विधायक जयराम जाटव ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष टीकाराम जूली पर दंगा भड़काने के आरोप लगाए तो जूली बोले-जब समाज पर गोलियां चल रही थी, तब कहां गए थे। समाज के बीच रहते तब पता चलता। अब राजनीति करने के लिए समाज की याद आई है। विधायक ने कहा कि पहले जनता को भड़का कर आग लगवा दी। रेल रुकवाते हो। थानों को फूंकते हो। आग पर पेट्रोल डालते हो। गोली चलवाते हो और अब समझौता कराने आए हो। करीब पांच मिनट तक विधायक और कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए। विधायक ने कहा कि मौत पर राजनीति कर रहे हैं। पोस्टमार्टम नहीं होने दे रहे। इस पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने कहा कि समाज के लोग संकट में आए तब इसे समाज की याद नहीं आई। अब समाज के हितैषी बन रहे हैं। सरकार और प्रशासन के पक्षकार बनकर राजनीति करने पर इन्हें शर्म नहीं आती। इस दौरान पूर्व जिला प्रमुख साफिया खान और प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने भी विधायक पर राजनीति करने के आरोप लगाए।

व्यापारि‍यों की बैठक, एसडीएम को दि‍या ज्ञापन

खेड़ली | कस्बे में व्यापारियों से सोमवार को हुई लूटपाट व मारपीट के विरोध में मंगलवार दोपहर दो बजे सभी व्यापार संघ के प्रतिनिधियों की बैठक हुई। इसमेंं व्यापारि‍यों ने सोमवार को रैली के दौरान उपद्रवियों द्वारा की गई लूटपाट व मारपीट की निंदा की तथा शांतिपूर्ण बंद के लि‍ए आभार जताया। बैठक के दौरान उक्त घटना में व्यापारि‍यों के नुकसान की भरपाई सहित आरोपियों की गिरफ्तारी दस दिन में करने की मांग का ज्ञापन एसडीएम कठूमर कनिष्क सैनी को सौंपा गया। बैठक में सब्जी मंडी संघ के निरंजन सैनी, मोहरसिंह सैनी, भगवान सैनी, सर्राफा संघ के लख्मीचंद कंसल, वस्त्र व्यवसाय संघ के वेदप्रकाश गुप्ता, खुदरा संघ के रामोतार गुप्ता, खाद बीज संघ से महेश चंद, खाद बीज से मुरारी अग्रवाल आदि ने भाग लिया।

बंद के दौरान मारपीट व रुपए चोरी का मामला दर्ज

बानसूर | 2 अप्रैल को बंद के दौरान दुकानदार के साथ मारपीट कर सामान व दो हजार रुपए चोरी कर ले जाने का मामला थाने में दर्ज हुआ है। थानाप्रभारी मनोहरलाल मीणा ने बताया कि कस्बे के समीप ढाणी उपली कोठी बाईपास रोड बानसूर निवासी दीनदयाल पुत्र कैलाश चंद सैनी ने मामला दर्ज कराया कि अनाज मंडी-चूंगी के पास मेरी कोल्डड्रिंक की दुकान है सोमवार को मैं दुकान पर बैठा था। भारत बंद के आह्वान पर पर एससी/एसटी वर्ग के लोग जुलूस व भीड़ के रूप में आए और उसके साथ मारपीट कर गल्ले में से दो हजार रुपए व कोल्डड्रिंक की बोतल चोरी कर ले गए। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।