Hindi News »Rajasthan »Khairthal» खैरथल-कोटकासिम कस्बे बंद रहे विधायकों को लोगों ने सुनाई खरी-खोटी

खैरथल-कोटकासिम कस्बे बंद रहे विधायकों को लोगों ने सुनाई खरी-खोटी

व्यापारी मुकेश अग्रवाल की गाेली मारकर हत्या व लूट के विराेध में शनिवार खैरथल, अलवर, किशनगढ़बास, बानसूर, कोटकासिम,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 11, 2018, 05:10 AM IST

व्यापारी मुकेश अग्रवाल की गाेली मारकर हत्या व लूट के विराेध में शनिवार खैरथल, अलवर, किशनगढ़बास, बानसूर, कोटकासिम, मुंडावर, सोड़ावास व बहरोड़ मंडी सहित जिले भर में बाजार पूरी तरह बंद रहे। स्कूलों में मृतक व्यापारी के प्रति दो मिनिट का मौन रख छुट्टी कर दी गई। व्यापारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी और सभा की। उधर, पीड़ित परिवार को सांत्वना देने पहुंचे किशनगढ़बास और अलवर शहर विधायक आदि भाजपा नेताओं को लोगों ने खूब खरी-खोटी सुनाई। गुस्साए लोगों ने कहा एक तो पुलिस पूरी तरह फेल, उस पर भी अस्पताल का हाल ये कि ऑक्सीजन तक नहीं मिली। जिससे व्यापारी की मौत हो गई। अलवर में शव के पोस्टमार्टम के बाद सुबह 11 बजे व्यापारी का शव खैरथल पहुंचा तो माहौल गमगीन हो गया। बड़ी संख्या में राजनेता और व्यापारिक, सामाजिक संगठनों के लोगों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया। सुबह करीब 8 बजे से ही रेलवे फाटक पर व्यापारी, आमजन और राजनेता जुटने लगे। पुलिस व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की गई। संयुक्त व्यापार महासंघ अध्यक्ष अाेमप्रकाश राेघा व व्यापार महासंघ संरक्षक अशाेक डाटा ने लाेगाें काे शांतिपूर्ण संघर्ष करने की बात कही। उधर, पुलिस को शनिवार शाम तक व्यापारी की हत्या करने वालों के बारे में कोई सुराग नहीं लगा।

खैरथल. घटना के िवरोध् में धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों को समझाते संयुक्त व्यापार महासंघ अध्यक्ष व संरक्षक।

बोले लोग-खैरथल सीएचसी में ऑक्सीजन होती तो बच जाता मुकेश

सुबह करीब 11 बजे किशनगढ़बास विधायक रामहेत सिंह यादव, अलवर विधायक बनवारीलाल सिंघल, भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष संजय शर्मा मृतक के परिजनों से मिलने पहुंचे। वे शोक जताने लगे को जनता का गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साए लोगों ने कहा कि आप जैसे लोगों के गैरजिम्मेदाराना रवैये से हालात ऐसे हो रहे हैं। खैरथल जैसे बड़े कस्बे के सीएचसी में कल ऑक्सीजन तक घायल को नहीं मिली। यहां समय पर इलाज मिलता ताे मुकेश बच सकता था। हालात ये हैं कि कोई घायल पहुंचता है तो उसे इलाज करने के बजाय अलवर भेज देते हैं। पुलिस की तो पूछो ही मत, बदमाश खुलेआम गोली मार कर भाग भी गए पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा। गश्त तो कस्बे में कभी दिखती ही नहीं।

पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता पहुंचे पुलिस थाने

अंतिम संस्कार के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री सिंह, जिला प्रमुख रेखा राजू यादव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष जुली सहित कई कांग्रेस नेता खैरथल पुलिस थाने पहुंचे। कांग्रेस नेताओं ने मामले में आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी और क्षेत्र में बिगड़ी कानून व्यवस्था सुधारने की मांग की। अन्य जनप्रतिनिधियों ने फाेन व कर्इयाें ने थाने में जाकर घटनाक्रम पुलिस कार्रवाई की जानकारी ली।

व्यापारियों का फैसला : 3 दिन तक बंद रहेंगे बाजार

शाम को महावर भवन में 24 यूनियनों के पदाधिकारियों की बैठक हुई। जिसमें तय हुआ कि तीन दिन तक खैरथल कस्बा पूरी तरह बंद रहेगा। संयुक्त व्यापार महासंघ अध्यक्ष अाेमप्रकाश रोघा व संरक्षक अशाेक डाटा के नेतृत्व में बैठक हुई। बैठक में थानाधिकारी जितेंद्र यादव, हैड कांस्टेबल सूबेसिंह यादव, विजय यादव व एएसअार्इ सूबेसिंह यादव काे तुरंत प्रभाव से हटाए जाने की मांग व्यापार महासंघ की ओर से की गई। व्यापारियों ने निर्णय लिया कि 72 घंटों में हत्यारे नहीं पकड़े गए ताे व्यापार महासंघ आगामी 13 मार्च काे दाेबारा बैठक कर कठाेरतम निर्णय लेगा।

12 थाना अधिकारी लगाए हैं तलाश में

एसपी के निर्देशन में 12 थाना अधिकारियों की टीम हमलावरों की तलाश में लगाई गई हैं। जल्द ही अाराेपियाें काे पकड़ने में पुलिस काे सफलता मिलने की संभावना है । -हिमांशु, एडीशनल एसपी नीमराना

परिवार में मचा काेहराम, बिलखते रहे परिजन

इसी दौरान व्यापारी मुकेश का शव घर पहुंचा तो पूरे मोहल्ले में सन्नाटा छा गया। बिलखते माता-पिता,प|ी, भार्इ व दाे बच्चियाें को लोगों ने जैसे-तैसे संभाला। मृतक मुकेश अग्रवाल की दो बेटियों में बड़ी याेगशिता 10 वीं कक्षा में तथा हेमी कक्षा 4 में पढ़ती है। छोटा भाई अनिल गुडगांव में सीए है। मुकेश की रविन्द्र कुमार एंड ब्रदर्स के नाम से किराना बड़ी दुकान है। पिता रविंद्र भी साथ बैठते थे। दोपहर बाद खैरथल गांव के भूड़ावाली शमशान में व्यापारी का अंतिम संस्कार किया गया।

कंधा चीरते हुए दिल को छेद गई गोली

पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. केके मीणा ने बताया कि मृतक के बाएं कंधे में गोली लगी। यह गोली कंधे की हड्डी से मूव करती हुई छाती में घुस गई और हार्ट व पेट को अंदर से चीरते हुए नीचे जाकर अटक गई। डॉ. मीणा ने बताया कि प्रथम दृष्ट्या जांच में गोली से मृतक मुकेश का हार्ट पंचर हो गया। इससे उसकी मौत हुई। उन्होंने बताया कि शव के अंदर फंसी गोली निकाली है, जिसे जांच के लिए एफएसएल भेजा जाएगा। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khairthal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×