--Advertisement--

परिवार में मचा काेहराम, बिलखते रहे परिजन

परिवार में मचा काेहराम, बिलखते रहे परिजन इसी दौरान व्यापारी मुकेश का शव घर पहुंचा तो पूरे मोहल्ले में सन्नाटा...

Danik Bhaskar | Mar 11, 2018, 05:10 AM IST
परिवार में मचा काेहराम, बिलखते रहे परिजन

इसी दौरान व्यापारी मुकेश का शव घर पहुंचा तो पूरे मोहल्ले में सन्नाटा छा गया। बिलखते माता-पिता,प|ी, भार्इ व दाे बच्चियाें को लोगों ने जैसे-तैसे संभाला। मृतक मुकेश अग्रवाल की दो बेटियों में बड़ी याेगशिता 10 वीं कक्षा में तथा हेमी कक्षा 4 में पढ़ती है। छोटा भाई अनिल गुडगांव में सीए है। मुकेश की रविन्द्र कुमार एंड ब्रदर्स के नाम से किराना बड़ी दुकान है। पिता रविंद्र भी साथ बैठते थे। दोपहर बाद खैरथल गांव के भूड़ावाली शमशान में व्यापारी का अंतिम संस्कार किया गया।

कंधा चीरते हुए दिल को छेद गई गोली

पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. केके मीणा ने बताया कि मृतक के बाएं कंधे में गोली लगी। यह गोली कंधे की हड्डी से मूव करती हुई छाती में घुस गई और हार्ट व पेट को अंदर से चीरते हुए नीचे जाकर अटक गई। डॉ. मीणा ने बताया कि प्रथम दृष्ट्या जांच में गोली से मृतक मुकेश का हार्ट पंचर हो गया। इससे उसकी मौत हुई। उन्होंने बताया कि शव के अंदर फंसी गोली निकाली है, जिसे जांच के लिए एफएसएल भेजा जाएगा। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।