• Home
  • Rajasthan News
  • Khairthal News
  • दहेज हत्या के आरोप में सास को सात व ससुर को दो साल की सजा सुनाई
--Advertisement--

दहेज हत्या के आरोप में सास को सात व ससुर को दो साल की सजा सुनाई

अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश वरूण तलवार ने दहेज हत्या के आरोप में सास को 7 वर्ष व ससुर को 2 वर्ष की सजा से दंडित किया...

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 05:30 AM IST
अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश वरूण तलवार ने दहेज हत्या के आरोप में सास को 7 वर्ष व ससुर को 2 वर्ष की सजा से दंडित किया है। अपर लोक अभियोजक अयूब खान ने बताया कि 13 फरवरी 2013 को गांव बिरटोली निवासी आसफ खान ने खैरथल थाने में मुकदमा दर्ज कराया कि उसकी बहन आसुबी की शादी 12 जनवरी 2001 को अलवर के चोर डूंगरी गांव में असगर पुत्र सुबान के साथ संपन्न हुई थी। शादी के बाद ही ससुराल पक्ष के लोग दहेज के मांग को लेकर तंग एवं परेशान करते रहे। 13 फरवरी 2003 को आसुबी अपने गांव बिरटोली में थी। उस दौरान आसुबी की सास जैतूनी का फोन आया। आसुबी ने अपनी सास से बात की। बात करने पश्चात आसुबी रोते हुए यह कह रही थी कि उसकी सास ने यह कहा कि तुझे हम आज रखे ना कल रखे। दहेज में कार भी नहीं दी थी। ये बात करती हुई आसुबी ने कुआं में कूदकर जान दे दी। आसुबी को ग्रामीणों की मदद से कुआं से बाहर निकाला एवं अस्पताल ले जाते हुए रास्ते में उसकी मौत हो गई। पुलिस ने सास जेतूनी ससुर सुबान खान व पति असगर खान के विरुद्ध दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया। जेतूनी व सुबान खान के विरुद्ध चालान किशनगढ़बास अदालत में पेश कर दिया एवं असगर (17) वर्ष के विरुद्ध चालान बाल न्यायालय में पेश कर दिया। किशनगढ़बास एडीजे ने सुनवाई के बाद जेतूनी को दहेज हत्या के आरोप में 7 साल की सजा व 5 हजार का जुर्माना एवं सुबान खान को दहेज के आरोप में दो वर्ष की सजा सुनाई है।