खेतड़ी

--Advertisement--

हनुमान नहीं होते तो राम भी आज...सरीखी कविताएं सुनाई

श्री हनुमानगढ़ी सत्संग मंदिर खेतड़ी में 68वें श्री हनुमान जन्मोत्सव महोत्सव पर शुक्रवार को दाना शिवम हॉस्पिटल...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:00 AM IST
हनुमान नहीं होते तो राम भी आज...सरीखी कविताएं सुनाई
श्री हनुमानगढ़ी सत्संग मंदिर खेतड़ी में 68वें श्री हनुमान जन्मोत्सव महोत्सव पर शुक्रवार को दाना शिवम हॉस्पिटल जयपुर के निदेशक एसपी यादव की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में माधोगढ़ सरपंच सरदाराराम फागणा मुख्य अतिथि थे। रामनिवास बजाड़ माधोगढ़, फतेहसिंह शेखावत, विजयसिंह खटाणा, ठेकेदार सहीराम बांसियाल, खेतड़ी थानाधिकारी हरदयालसिंह यादव, उम्मेदसिंह चिरानी, सीताराम जाट विशिष्ट अतिथि थे। अतिथियों का सम्मान किया गया। कवि सम्मेलन में प्रदीप पंवार टोंक ने भरत से अपने लोगों को परिचय करवाते हुए जब हनुमान के पास पहुंचे तो कहा कि ये हनुमान नहीं होेते तो आज अयोध्या में श्रीराम नहीं होते….., कवि संजीव सजल भीलवाड़ा भंवर, कवि गोरस प्रचंड कोटा, कवि कमल महेश्वरी कमल अजमेर, कवि दिलीपसिंह दीपक सिरोही ने काव्य पाठ से श्रोताओं को देर रात तक ठहरने के लिए मजबूर कर दिया। संस्था के अध्यक्ष महावीरप्रसाद स्वामी, सत्यनारायण भार्गव, डॉ. सोमदत्त भगत, कैलाश सहित अनेक लोगों ने अतिथियों का माला, प्रतीक चिह्न देकर सम्मान किया।

X
हनुमान नहीं होते तो राम भी आज...सरीखी कविताएं सुनाई
Click to listen..