• Home
  • Rajasthan News
  • Khinwsar News
  • बाघ संरक्षण अथॉरिटी ने रोकी मुकंदरा में बाघ की शिफ्टिंग
--Advertisement--

बाघ संरक्षण अथॉरिटी ने रोकी मुकंदरा में बाघ की शिफ्टिंग

मुकंदरा में बाघ शिफ्ट करने के सरकार के प्रयासों को बड़ा झटका लगा है। नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी (एनटीसीए) ने...

Danik Bhaskar | Mar 28, 2018, 04:55 AM IST
मुकंदरा में बाघ शिफ्ट करने के सरकार के प्रयासों को बड़ा झटका लगा है। नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी (एनटीसीए) ने मुकंदरा में बाघ ले जाने पर अस्थायी रोक लगा दी है। इसके लिए एनटीसीए ने चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन को पत्र लिखा है। इसमें भारी आपत्तियां लगाई हैं कि बाघ शिफ्टिंग को लेकर वन विभाग ने उनके सवालों का जवाब नहीं दिया। ऐसे में वो यहां बाघ ले जाने की मंजूरी नहीं दे सकते। फिलहाल एनटीसीए ने इस मसले को एबेंस में रखा है। एनटीसीए का पत्र मंगलवार को ही वन विभाग को मिला है, जिसने पूरे महकमे और सरकार तक को चिंता में डाल दिया है। क्योंकि सरकार ने 26 मार्च के बाद कभी भी बाघ ले जाने की तैयारी कर रखी है। रणथंभौर से शिफ्ट किए जाने वाले बाघों की पहचान और उनको ले जाने के लिए लगातार टीम रैकी कर रही है। मुकंदरा में बाघ ले जाने की प्लानिंग को लेकर एनटीसीए ने 9 अक्टूबर 2017 को पत्र लिखकर वन विभाग से प्लानिंग जानी। इसके बाद 9 नवंबर को पत्र लिखा, फिर 20 मार्च को पत्र लिखा गया। वन विभाग इनका जवाब नहीं दे पाया। पत्रों में शिफ्टिंग किए जाने वाले बाघों की सुरक्षा के संबंध में कॉलर आईडी, भोजन (प्रेबेस) की व्यवस्था (जो कि मुकंदरा में सबसे बड़ा चैलेंज) और पूरी जानकारी मांगी गई थी।

हम आज सारी डिटेल भेज देंगे : चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन


राज्य के वनमंत्री बोले- केंद्रीय वन मंत्री से बात करेंगे