Hindi News »Rajasthan »Khiwsar» गुड़िया-जोरावरपुरा के बीच आबकारी विभाग ने दी शराब ठेके की मंजूरी, ग्रामीणों ने किया विरोध

गुड़िया-जोरावरपुरा के बीच आबकारी विभाग ने दी शराब ठेके की मंजूरी, ग्रामीणों ने किया विरोध

आबकारी विभाग ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 65 के पास गांव गुड़िया-जोरावरपुरा के बीच जोगियों व मेघवालों की ढाणियों के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 04, 2018, 05:05 AM IST

आबकारी विभाग ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 65 के पास गांव गुड़िया-जोरावरपुरा के बीच जोगियों व मेघवालों की ढाणियों के पास शराब ठेका लगाने पर 3 गांवों के ग्रामीण आबकारी विभाग के खिलाफ लामबंद हो गए है। मंगलवार को डेहरू सरपंच प्रतिनिधि अणदाराम रलिया के नेतृत्व में बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय पहुंचकर गांव में शराब ठेका शुरू करने को लेकर आक्रोश जताया। वहीं ग्रामीणों ने अधिकारियों को चेतावनी दी कि अगर शीघ्र ही इन गांवों के बीच शराब के ठेके के लिए तय की गई जगह को बदलकर ठेका बंद नहीं किया तो वे प्रदर्शन करेंगे। सरपंच प्रतिनिधि अणदाराम रलिया, जगराम पिचकिया, चंदाराम, पांचाराम, संग्राम, मोटाराम, कैलाशराम, मेहराम, रामचंद्र, खेमाराम सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि डेहरू, जोरावरपुरा व गुड़िया गांव में बीते 8 सालों से शराब को ठेका संचालित नहीं किया जाता था। मगर आबकारी विभाग के अधिकारियों ने शराब ठेकेदार के साथ मिलीभगत कर गांव में अब शराब ठेके के लिए गुपचुप तरीके से स्थान तय कर दिया। ग्रामीणों ने बताया कि अगर तीनों गांवों में शराब का ठेका लगाने का प्रयास किया गया तो ग्रामीण इसका विरोध कर ठेके को किसी भी हालात में यहां संचालित नहीं होने देंगे। आबकारी विभाग के अधिकारी को बताया कि अगर गांव में ठेका शुरू किया गया तो ग्रामीणों द्वारा इसका विरोध किया जाएगा।

ग्रामीणों ने सरपंच प्रतिनिधि के नेतृत्व में आबकारी कार्यालय पहुंच जताई नाराजगी

भास्कर संवाददाता | खींवसर

आबकारी विभाग ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 65 के पास गांव गुड़िया-जोरावरपुरा के बीच जोगियों व मेघवालों की ढाणियों के पास शराब ठेका लगाने पर 3 गांवों के ग्रामीण आबकारी विभाग के खिलाफ लामबंद हो गए है। मंगलवार को डेहरू सरपंच प्रतिनिधि अणदाराम रलिया के नेतृत्व में बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय पहुंचकर गांव में शराब ठेका शुरू करने को लेकर आक्रोश जताया। वहीं ग्रामीणों ने अधिकारियों को चेतावनी दी कि अगर शीघ्र ही इन गांवों के बीच शराब के ठेके के लिए तय की गई जगह को बदलकर ठेका बंद नहीं किया तो वे प्रदर्शन करेंगे। सरपंच प्रतिनिधि अणदाराम रलिया, जगराम पिचकिया, चंदाराम, पांचाराम, संग्राम, मोटाराम, कैलाशराम, मेहराम, रामचंद्र, खेमाराम सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि डेहरू, जोरावरपुरा व गुड़िया गांव में बीते 8 सालों से शराब को ठेका संचालित नहीं किया जाता था। मगर आबकारी विभाग के अधिकारियों ने शराब ठेकेदार के साथ मिलीभगत कर गांव में अब शराब ठेके के लिए गुपचुप तरीके से स्थान तय कर दिया। ग्रामीणों ने बताया कि अगर तीनों गांवों में शराब का ठेका लगाने का प्रयास किया गया तो ग्रामीण इसका विरोध कर ठेके को किसी भी हालात में यहां संचालित नहीं होने देंगे। आबकारी विभाग के अधिकारी को बताया कि अगर गांव में ठेका शुरू किया गया तो ग्रामीणों द्वारा इसका विरोध किया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khiwsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×