--Advertisement--

झूठी रिपोर्ट, बीडीओ पर बरसे कलेक्टर, ग्राम सेवक निलंबित

ग्राम पंचायत बिरलोका में गुरुवार को कलेक्टर कुमारपाल गौतम द्वारा की गई रात्रि चौपाल में स्वच्छ भारत मिशन के तहत 242...

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2018, 05:45 AM IST
झूठी रिपोर्ट, बीडीओ पर बरसे कलेक्टर, ग्राम सेवक निलंबित
ग्राम पंचायत बिरलोका में गुरुवार को कलेक्टर कुमारपाल गौतम द्वारा की गई रात्रि चौपाल में स्वच्छ भारत मिशन के तहत 242 शौचालयों का निर्माण कागजों में बताकर झूठे आंकड़े पेशकर ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित किए जाने का मामला सामने आया। मामले को लेकर कलेक्टर गौतम ने विकास अधिकारी अर्जुनलाल मोरवाल से ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित करवाने का पूछने पर बीडीओ कोई जबाव नहीं दे पाए। जिस पर कलेक्टर ने बीडीओ को जमकर फटकार लगाई एवं गड़बड़ी कर स्वच्छ भारत मिशन के झूठे आंकड़े पेशकर ओडीएफ करने के मामले में तीन दिन में जांच कर रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए। इतना ही नहीं बीडीओ से प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में जानकारी मांगी जाने पर उन्होंने जानकारी नहीं होने की बात कही। कलेक्टर ने कहा आपको कुछ जानकारी नहीं है तो फिर पंचायत समिति में क्या कर रहे हो। ग्राम पंचायत बिरलोका में गलत तरीके से ओडीएफ घोषित करने को लेकर कलेक्टर के निर्देशों पर एसीईओ दिनेश चन्द्र भार्गव ने बिरलोका ग्राम सेवक अर्जुनराम बेनीवाल को निलंबित कर दिया है। साथ ही विकास अधिकारी से झूठे आंकड़े पेश करने ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित करवाने को लेकर जांच कर तीन दिन में रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए हैं।

रात्रि चौपाल

कलेक्टर ने बीडीओ से झूठी रिपोर्ट बनाकर पंचायत को ओडीएफ घोषित करने की जानकारी मांगी, बोले मुझे कुछ नहीं पता

गड़बड़झाला : झूठे आंकड़े बताकर ओडीएफ घोषित के मामले में अधिकारियों की भूमिका संदिग्ध

आलम ये है कि इस गड़बड़झाला कर ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित करने में कई अधिकारियों की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही है। शौचालय नहीं बनने के बावजूद ग्राम पंचायत में 242 शौचालय निर्माण करवाना बताकर पंचायत को ओडीएफ घोषित कर दिया। बिरलोका सरपंच प्रतिनिधि नानकराम हुड्डा ने बताया कि पंचायत समिति के अधिकारियों से ग्राम पंचायत में शौचालय नहीं बने होने पर पंचायत को ओडीएफ घोषित करने से मना किया था। लेकिन जानबूझकर ग्राम पंचायत को कागजों में ओडीएफ घोषित करवा दिया।

24 घंटे बिजली आपूर्ति सुचारू करने की मांग की

ग्रामीणों ने कलेक्टर को गांव में 24 घंटे बिजली आपूर्ति करवाने की मांग की। कलेक्टर ने डिस्कॉम के अधिकारियों से बात की। एईएन मनोज बंसल ने अलग लाईन लगाकर 24 घंटे बिजली आपूर्ति से जोड़ने के लिए चयन करने के आदेश मिले हैं। कलेक्टर ने बिरलोका गांव को इसमें जोड़ने के निर्देश दिए। इस मौके पर एसडीएम इन्द्रजीत यादव, सानिवि के अधीक्षण अभियन्ता विजय कुमार, तहसीलदार रामस्वरूप, एईएन तुलछाराम, सरपंच डिम्पल, पीएचईडी के रणजीत शर्मा, पूर्व पंचायत समिति नानकराम हुड्डा सहित कई जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे।

X
झूठी रिपोर्ट, बीडीओ पर बरसे कलेक्टर, ग्राम सेवक निलंबित
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..