खींवासर

--Advertisement--

गड़बड़ी के दोषी ब्लॉक समन्वयक को हटाया, लेकिन मामला दर्ज नहीं

स्वच्छभारत मिशन अभियान में गड़बड़ी सामने आने के बाद कलेक्टर के आदेश पर दोषी ब्लॉक समन्वयक हनुमान सिंह सियाग को हटा...

Dainik Bhaskar

Jan 08, 2018, 06:16 AM IST
स्वच्छभारत मिशन अभियान में गड़बड़ी सामने आने के बाद कलेक्टर के आदेश पर दोषी ब्लॉक समन्वयक हनुमान सिंह सियाग को हटा दिया, लेकिन एसडीएम ने अभी तक मामला दर्ज नहीं करवाया है। एसडीएम द्वारा दोषी को बचाने के लिए ग्राम पंचायत पंचायत समिति के स्वच्छ भारत मिशन का रिकार्ड मिलाने करने की बात कही जा रही है। उल्लेखनीय है कि गांवों में बने शौचालय निर्माण के आवेदन अन्य दस्तावेज कचरे में मिलने के बाद जांच कमेटी का गठन किया था। कमेटी ने रिपोर्ट में पंचायत समिति के संविदा पर लगे ब्लॉक समन्वयक हनुमान सियाग को दोषी माना। पिछले सप्ताह कलेक्टर यहां निरीक्षण करने पहुंचे और उन्होंने खुद दोषी ब्लॉक समन्वयक को हटाया था। इसके बाद भी वह पंचायत समिति में काम करता रहा। अब उसे वहां से हटा दिया गया है। लेकिन कलेक्टर गौतम के आदेश के बाद भी उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं करवाया गया है।

मामला बढ़ता देख 20 दिन पहले किया भुगतान

पांचौड़ी सरपंच देवाराम सुथार का कहना है कि शौचालय निर्माण की सीसी 1 जुलाई 2016 को पंचायत समिति के ब्लॉक समन्वयक के पास जमा करवाई। जिसका जानबूझकर भुगतान रोक दिया। मामला बढ़ता देख 20 दिन पहले 5 जनों को प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया। वहीं, ग्राम सचिव हनुवंतसिंह का कहना है कि स्वच्छ भारत मिशन के ब्लॉक समन्वयक द्वारा गड़बड़ी के मामले को लेकर जांच कमेटी ने रिकॉर्ड मांगा था। तभी से रिकॉर्ड पंचायत समिति में जमा है।

3-4ग्रामसेवकों से रिकाॅर्ड मांगा है

^कमेटीने रिपोर्ट में माना है कि खींवसर पंचायत समिति के ब्लॉक समन्वयक हनुमान सियाग ने पांचौड़ी तीन अन्य ग्राम पंचायतों के रिकॉर्ड में छेड़छाड़ की है। इन ग्राम पंचायतों के ग्रामसेवकों से रिकार्ड मंगवाया गया है। रिकार्ड आने के बाद ग्राम पंचायतों पंचायत समिति के रिकार्ड का मिलाने करने के बाद ग्रामसेवकों को मामला दर्ज करवाने के निर्देश देंगे। इंद्रजीतयादव, एसडीएम, खींवसर

X
Click to listen..