--Advertisement--

टांकला गौशाला में आज होगा 108 कुंडीय महायज्ञ

खींवसर| गांव टांकला के संत किशनदास महाराज गौशाला में सोमवार को नानीबाई मायरा की कथा के दूसरे दिन कथा वाचक पंडित...

Danik Bhaskar | May 15, 2018, 04:40 AM IST
खींवसर| गांव टांकला के संत किशनदास महाराज गौशाला में सोमवार को नानीबाई मायरा की कथा के दूसरे दिन कथा वाचक पंडित अशोक महाराज ने कहा कि ईश्वर भक्ति से ही मनुष्य जीवन का कल्याण सम्भव होगा, मनुष्य को सांसारिक मोह माया का त्याग कर ईश्वर भक्ति के मार्ग पर चलना चाहिए। जिससे जीव का कल्याण हो पाएगा। इस मौके पर महाराज ने कहा कि जिस जगह पर भक्ति कथा की जाती है वह भूमि अति उतम हो जाती है। मंगलवार को गौशाला में संत मोतीराम महाराज के सान्निध्य में 108 कुण्डीय महायज्ञ का आयोजन होगा। इस महायज्ञ में आसपास के कई गांवों से 108 जोड़े हवन में आहुतियां देंगे। नानीबाई मायरा कथा समापन पर भामाशाह पुरखाराम निम्बीवाल द्वारा गौशाला की गायों के लिए मायरा भरा जाएगा। कथा संत अर्जुनदास महाराज, भंवरलाल प्रजापत, उमाराम लिंबा, नारायणराम, हनुमान खोजा, रामरतन प्रजापत, हरदीनराम मेघवाल, हेमाराम, प्रहलादराम, मुनाराम अहमदपुरा, घनश्याम, सोहन राम सहित कई ग्रामीण सेवाओं में जुटे रहे।

गोगेलाव| गांव बाराणी में चल रही श्री रामकथा में संत डूंगरदास महाराज ने कहा कि इंसान पैसों की मोह माया के चक्कर में भगवान के भजनों से दूर हो जाता है। महाराज ने कहा कि मनुष्य को अपने जीवन को प्रभु की भक्ति में लगाना चाहिए। इससे ही उसके जीवन का कल्याण संभव है। इस कथा का आयोजन ग्रामीणों की ओर से कराया जा रहा है। सोमवार को सत्यनारायण सारण, कालूराम गोदारा, लूणसिंह, साजनसिंह, भंवराराम सारण सहित आस-पास के गांवों से भी श्रद्धालु उपस्थित रहे।