Hindi News »Rajasthan »Khiwsar» ढींगसरा से टांकला तक पुलिस व राजस्व विभाग ने रास्ते से हटावाया अतिक्रमण

ढींगसरा से टांकला तक पुलिस व राजस्व विभाग ने रास्ते से हटावाया अतिक्रमण

ढींगसरा से टांकला सीमा तक तीन किलोमीटर लम्बे कटाणी मार्ग को शनिवार को राजस्व विभाग ने पुलिस जाब्ते की मौजूदगी में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 14, 2018, 04:55 AM IST

ढींगसरा से टांकला तक पुलिस व राजस्व विभाग ने रास्ते से हटावाया अतिक्रमण
ढींगसरा से टांकला सीमा तक तीन किलोमीटर लम्बे कटाणी मार्ग को शनिवार को राजस्व विभाग ने पुलिस जाब्ते की मौजूदगी में अतिक्रमण मुक्त किया। कटाणी रास्ते पर लम्बे से अतिक्रमण के चलते रास्ता बाधित हो रहा था। पिछले काफी समय से ग्रामीण कटाणी रास्ते पर हुए अतिक्रमण को हटाने की मांग कर रहे थे। शनिवार को नायब तहसीलदार रामस्वरूप जौहर, भेड़ सर्किल के भू-अभिलेख निरीक्षक पदमाराम भाकल, ढींगसरा पटवारी रामपाल बसवाणा, पाबूसर पटवारी बीरमाराम ज्याणी ने नाप चौप कर कटाणी रास्ते का अतिक्रमण मुक्त किया। अतिक्रमण हटाने के दौरान नागौर सदर पुलिस, खींवसर, भावण्डा एवं पांचौड़ी पुलिस जाब्ता तैनात रहा। अतिक्रमण हटाने के दौरान अतिक्रमणकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच तीखी नोक झोंक हुई। वही कटाणी रास्ते पर जेसीबी मशीन लगाकर अतिक्रमण हटाया गया। ग्रामीणों ने बताया कि कटाणी रास्ता खुलने से खेतों तथा दूसरें गांव की ओर जाने के लिए राहत मिलेगी।

खींवसर. कटाणी रास्ते पर अतिक्रमण हटाते हुए।

भास्कर संवाददाता | खींवसर

ढींगसरा से टांकला सीमा तक तीन किलोमीटर लम्बे कटाणी मार्ग को शनिवार को राजस्व विभाग ने पुलिस जाब्ते की मौजूदगी में अतिक्रमण मुक्त किया। कटाणी रास्ते पर लम्बे से अतिक्रमण के चलते रास्ता बाधित हो रहा था। पिछले काफी समय से ग्रामीण कटाणी रास्ते पर हुए अतिक्रमण को हटाने की मांग कर रहे थे। शनिवार को नायब तहसीलदार रामस्वरूप जौहर, भेड़ सर्किल के भू-अभिलेख निरीक्षक पदमाराम भाकल, ढींगसरा पटवारी रामपाल बसवाणा, पाबूसर पटवारी बीरमाराम ज्याणी ने नाप चौप कर कटाणी रास्ते का अतिक्रमण मुक्त किया। अतिक्रमण हटाने के दौरान नागौर सदर पुलिस, खींवसर, भावण्डा एवं पांचौड़ी पुलिस जाब्ता तैनात रहा। अतिक्रमण हटाने के दौरान अतिक्रमणकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच तीखी नोक झोंक हुई। वही कटाणी रास्ते पर जेसीबी मशीन लगाकर अतिक्रमण हटाया गया। ग्रामीणों ने बताया कि कटाणी रास्ता खुलने से खेतों तथा दूसरें गांव की ओर जाने के लिए राहत मिलेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khiwsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×