--Advertisement--

ग्रामीण इलाकों में हुआ शहर से 5.55 प्रतिशत ज्यादा मतदान

Kishangarh News - श्याम मनोहर पाठक| मदनगंज -किशनगढ़ किशनगढ़ विधानसभा चुनाव में सात दिसंबर को हुए मतदान में ग्रामीण मतदाता शहरी...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 03:56 AM IST
Kishangarh News - 555 percent more voter turnout in rural areas
श्याम मनोहर पाठक| मदनगंज -किशनगढ़

किशनगढ़ विधानसभा चुनाव में सात दिसंबर को हुए मतदान में ग्रामीण मतदाता शहरी वोटर्स से आगे रहे। ग्रामीण इलाकों में शहर की तुलना में 5.55 प्रतिशत ज्यादा मतदान हुआ।

शहरी क्षेत्र में बूथ संख्या 44 से 132 तक कुल 88 बूथों पर 71.11 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में बूथ संख्या 1 से 43 तथा 133 से 269 कुल 181 बूथों पर 76.66 प्रतिशत मतदान हुआ। सर्वाधिक मतदान अरांई तहसील के बिंजरवाड़ा गांव में 98.67 प्रतिशत और सबसे कम मतदान शहरी क्षेत्र में मालियों की ढाणी बूथ संख्या 68 पर 56.40 प्रतिशत रहा। 15 बूथों पर मतदान प्रतिशत 74.16 से 89.16 प्रतिशत तक रहा। 15 बूथों पर मतदान प्रतिशत 59.16 से 74.16 तक रहा। तीन बूथों पर मतदान 95 प्रतिशत से अधिक रहा।

जानकारी के अनुसार शहरी क्षेत्र में 1 लाख 17 हजार 872 में से 83 हजार 813 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया।

ग्रामीण क्षेत्र में 1 लाख 44 हजार 697 मतदाताओ में से 1 लाख 10 हजार 926 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। इस प्रकार कुल वोटर 2 लाख 62 हजार 569 मतदाता में से 1 लाख 94 हजार 739 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। मालूम हो कि इस बार विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए नेशनल पार्टी सहित अन्य पार्टियों के आठ उम्मीदवार मैदान में थे। वहीं आठ उम्मीदवार कुल सोलह प्रत्याशी मैदाने जंग में रहे। मुख्य मुकाबला कांग्रेस के नंदाराम थाकण, बीजेपी के विकास चौधरी और दोनों बागी निर्दलीय सुरेश टांक व पूर्व विधायक नाथूराम सिनाेदिया के बीच है।

इस प्रकार पड़ा मतदान

जानकारी के अनुसार किशनगढ़ विधानसभा के लिए 1 लाख 94 हजार 739 मतदाताओ ने अपने मत का प्रयोग किया। इसमें शहरी क्षेत्र में 83 हजार 813 मतदाता तथा ग्रामीण क्षेत्र में 1 लाख 10 हजार 926 मतदाताओंं ने अपने मत का प्रयोग किया। इसमें 17 टेंडर वोट रहे, 491 दिव्यांग ने भी अपने मत का प्रयोग किया। 6 हजार 655 मतदाताओं ने राशनकार्ड सहित अन्य आईडी के माध्यम से अपने मत का प्रयोग किया। राजस्थान सहित देश में राजकीय सेवा में लगे 26 मतदाता ने अपने स्थान से वोट किया।

विधानसभा चुनाव में इस बार सन 2013 की अपेक्षा 3.07 प्रतिशत कम मतदान

वर्ष 2018 विधानसभा चुनाव में मतदाताओं का उत्साह वर्ष 2013 के चुनाव की अपेक्षा कम रहा। इस बाद वर्ष 2013 के मुकाबले में 3.03 प्रतिशत मतदान कम हुआ। हालांकि मतदान करने का उत्साह पहले की अपेक्षा अधिक था। मालूम हो कि वर्ष 2013 में 77.23 प्रतिशत मतदान हुआ था। इस बार 74.16 प्रतिशत मतदान हुआ है।

मतदान के लिए 275 मशीनों का प्रयोग

विधानसभा किशनगढ़ के 269 बूथों पर मतदान के लिए 275 ईवीएम मशीन का प्रयोग किया गया। बूथों पर 269 मशीन लगाई गई। मगर मतदान के दौरान शिकायत पर छह मशीन और लगाई गई।

एनआरआई मतदाताओं ने नहीं दिखाई रुचि

किशनगढ़ विधानसभा चुनाव में एनआरआई मतदाता 25 हैं। इनमें से एक भी एनआरआई मतदाता ने मतदान में रुचि नहीं दिखाई।

भाग सं. 67, 68 व 69 पर सबसे कम मतदान

शहरी क्षेत्र वार्ड संख्या आठ व नौ में राजकीय स्कूल मालियों की ढाणी व जगदंबा स्कूल पर भाग संख्या 68 में 56.40 प्रतिशत, भाग संख्या 69 पर 58.18 प्रतिशत आैर भाग संख्या 67 पर 59.01 प्रतिशत मतदान हुआ। इसका मुख्य कारण इस ओर भाट जाति के उम्मीदवार बहुतायत में रहते है जो रोजगार के लिए इन दिनो राज्य से ही बाहर रहते है। इस कारण मतदान यहां हर बार बहुत कम रहता है। वर्ष 2013 विधानसभा सभा, लोकसभा 2014, उप लोकसभा चुनाव व विधानसभा 2018 में भी मतदान कम रहा।

हर बूथ पर 50 प्रतिशत से अधिक मतदान

हर बूथ पर मतदान पचास प्रतिशत से अधिक रहा। पूर्व में पचास प्रतिशत मतदान बड़ी उपलब्धि मानी जाती थी। जैसे जैसे जाग रुकता और शिक्षा बढ़ी है मतदान प्रतिशत प्रशासन शतप्रतिशत करने पर आमदा है। यही कारण है अब मतदान 98 प्रतिशत तक पहुंच गया है। बिंजरवाड़ा, रामपुरा की ढाणी, बंसरा मंहरान, मंडावरिया,कालीडूंगरी, मोहम्मद गढ, नोंनदपुरा, इंदौली, बालपुरा, पंडरवाडा, योगियो की ढाणी, गोवर्धनपुरा, नयागांव, तिलोनिया पूर्वी भाग, भगवंतपुरा में 85 प्रतिशत 98 प्रतिशत तक मतदान हुआ।

X
Kishangarh News - 555 percent more voter turnout in rural areas
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..