--Advertisement--

होलिका दहन स्थलों पर नजर नहीं आई पुलिस

भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़ होली पर सुरक्षा के दावे करने वाली पुलिस गायब ही नजर आई। शहर में प्रत्येक होलिका दहन...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:25 AM IST
भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़

होली पर सुरक्षा के दावे करने वाली पुलिस गायब ही नजर आई। शहर में प्रत्येक होलिका दहन स्थल पर दो पुलिसकर्मियों को सुरक्षा की दृष्टि से तैनात किया जाना था लेकिन दहन वाले दिन एक भी पुलिसकर्मी नजर नहीं आया। यहां तक की सादा वर्दी में भी पुलिसकर्मी नजर नहीं आए। शहरवासी खुद ही अपने-अपने क्षेत्र में सुरक्षा करते नजर आए। इसका परिणाम ये रहा कि कृष्णापुरी क्षेत्र में होलिका दहन स्थल युवकों में विवाद खड़ा हो गया। युवकों ने आपस में मारपीट कर ली। जिससे माहौल बिगड़ गया। घायल युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। क्षेत्रवासियों की सूचना के बावजूद पुलिस देरी से पहुंची। हालांकि मौहल्लेवासियों की समझाइश के बाद विवाद शांत हुआ। इसके अलावा पूरे शहर में छिटपुट घटनाओं के बीच होली शांतिपूर्ण तरीके से मनाई गई। लेकिन एसपी के निर्देशानुसार सुरक्षा व्यवस्था के तहत होलिका दहन स्थल पर दो पुलिसकर्मी तैनात करने के निर्देश दिए गए थे। साथ ही भीड़ वाले क्षेत्रों में सादा वर्दी में पुलिसकर्मी लगाए जाने थे वे भी कहीं नजर नहीं आए।

जानकारी के अनुसार शहर में शांतिपूर्ण तरीके से होली का पर्व मनाया गया। पुलिस अधीक्षक ने होली के पर्व को लेकर शहर के विभिन्न स्थानों पर पुलिसकर्मी तैनात करने के निर्देश दिए थे। विशेषकर होलिका दहन स्थल पर सादा वर्दी में पुलिसकर्मी लगाने के लिए निर्देेशित किया गया था। यानि प्रत्येक होलिका दहन स्थल पर सुरक्षा के लिए लिहाज से दो कम से दाे पुलिसकर्मी तैनात रहकर शांति व्यवस्था को बनाए रखेंगे। लेकिन 1 मार्च गुरुवार को होलिका दहन स्थल पर एक भी पुलिसकर्मी नजर नहीं आया। शहर भर में प्रत्येक वार्ड में दो से चार जगह होलिका दहन किया गया। शहर में वर्तमान में 45 वार्ड हैं और करीब 150 से ज्यादा जगह हाेलिका दहन किया गया। लेकिन इनमें से कहीं भी होलिका दहन स्थल पर पुलिसकर्मी नजर नहीं आए। शहरवाासियों को स्वयं को दहन स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था की बागडोर संभालनी पड़ी।

भारी वाहनों को नो एंट्री

भीड़भाड़ के माहौल में शहर के मुख्य बाजारों में तिपहिया, चौपहिया के आवागमन से ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा बिगड़ी हुई है। होली के चलते इन दिनों बाजारों में भारी भीड़ बनी है। कई बार तो हालात ऐसे हो जाते हैं कि वाहनों के जमघट के चलते पैदल राहगीरों को भी निकलने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ा। व्यवस्था बनाने के लिहाज से ट्रैफिक पुलिस द्वारा भी यातायात व्यवस्था में परिवर्तन किया गया। होलिका दहन और धुलंडी तक मुख्य बाजारों में भारी वाहनों के प्रवेश पूरी तरह से बंद रखा गया। मुख्य चौराहा, पेट्रोल पंप के पास, पुरानी मिल चौराहा, सिटी रोड, बस स्टैंड पर जगह-जगह बेरिकेड्स लगाए गए। चेक पोस्ट पर वाहनों की चेकिंग की गई।

हर मोहल्ले में होलिका दहन स्थल पर तैनात होने थे पुलिसकर्मी, आमजन ने ही की अपनी सुरक्षा

किशनगढ़. होलिका दहन के मौके पर कहीं नजर नहीं आए पुलिसकर्मी।