• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kishangarh
  • साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती से ऑपरेशन टला, एक्सरे, सोनोग्राफी की जांचें भी ठप
--Advertisement--

साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती से ऑपरेशन टला, एक्सरे, सोनोग्राफी की जांचें भी ठप

Dainik Bhaskar

Jun 24, 2018, 03:30 AM IST

Kishangarh News - भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ यज्ञनारायण अस्पताल में शनिवार को साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती के कारण एक्सरे,...

साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती से ऑपरेशन टला, एक्सरे, सोनोग्राफी की जांचें भी ठप
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

यज्ञनारायण अस्पताल में शनिवार को साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती के कारण एक्सरे, सोनोग्राफी सहित अन्य जांचें ठप हो गई। इससे सैकड़ों रोगियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वार्डों में भर्ती मरीजों को उमस और गर्मी से बेहाल होना पड़ा। हालांकि कहने मात्र को जेनरेटर चला दिया गया था लेकिन जेनरेटर से एक्सरे मशीन का लोड नहीं उठाया जा सकता। इसलिए ये जांच बंद रहीं। इसी तरह वार्डों में कूलर, एसी भी बंद हो गए। महज गिनती के पंखे चल रहे थे। ऐसे में खचाखच भरे वार्डों में साढ़े तीन घंटे मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। सुबह 11.30 बजे बाद बिजली सुचारू हो पाई। तब जाकर सभी ने राहत की सांस ली।

जानकारी के अनुसार यज्ञनारायण अस्पताल के पास बिजली की लाइन में फॉल्ट हो गया। इस कारण अस्पताल सहित शिवाजी नगर, मित्र निवास सहित आसपास की कॉलोनी की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। सुबह 8 बजे से बिजली बंद हो गई। यही समय आउटडोर का होता है। जिसमें मरीज डॉक्टरों को दिखाने के साथ ही जांचे भी करवाते है। बिजली कट होते ही जांचे अटक गई। अस्पताल के आउटडोर के कम्प्यूटर भी कुछ देर के लिए बंद हो गए और पर्ची नहीं काटने का काम भी बंद हो गया। गायनिक वार्ड में भर्ती प्रसूताओं को गर्मी से परेशान होना पड़ा।

ऑपरेशन के लिए मार्बल सिटी अस्पताल में कराना पड़ा ऑटोक्लेव, भीषण गर्मी में वार्डों में भर्ती मरीजों को उठानी पड़ी परेशानी, जेनरेटर नहीं उठा पाया लोड, 3 फेस कनेक्शन नहीं होने से बढ़ा संकट

मदनगंज-किशनगढ़. राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल में काउंटर पर पर्ची कटाने के लिए इंतजार करते मरीज।

पावर कट से सुबह 9 बजे होने वाला ऑपरेशन 12 बजे हुआ

यज्ञनारायण अस्पताल में शनिवार को एक युवती का कूल्हे की हड्‌डी का ऑपरेशन होना था। लेकिन लाइट नहीं होने के कारण आॅपरेशन शुरू नहीं हो पाया। ऑपरेशन के औजारों को ऑटोक्लेव के लिए मार्बल सिटी अस्पताल में बात की गई। अस्पताल प्रशासन के सहमति जताने पर मार्बल सिटी से ऑटोक्लेव कराया गया। उसके बाद दोपहर 12 बजे यज्ञनारायण अस्पताल में लाइट आने पर ऑपरेशन शुरू हो पाया। तीन घंटे देरी से ऑपरेशन हुआ।

जेनरेटर से नहीं चल सकती एक्सरे मशीन

अस्पताल में जेनरेटर की व्यवस्था है लेकिन अस्पताल में इतनी सारी बिजली की लाइटों के साथ जेनरेटर से एक्सरे मशीन नहीं चल सकती। इसके लिए थ्री फेस बिजली की आवश्यकता रहती है। जेनरेटर लोड नहीं उठा सकता। अस्पताल सूत्रों के अनुसार दस वर्ष पूर्व तात्कालिक पीएमओ डॉ. गोपाल माथुर के समय जेनरेटर से एक्सरे करने का प्रयास किया गया। लेकिन उस लोड के कारण ट्रांसफार्मर ही जल गया था। 80 हजार रुपए अस्पताल प्रशासन को भरने पड़े। एक महीने तक जांच बंद रही। ऐसे में हाइटेंशन बिजली होना आवश्यक है।

रोजाना 100 एक्सरे, आज रहेगा स्टाफ पर दबाव

यज्ञनारायण अस्पताल में रोजाना औसत 90 से 100 मरीजों का एक्सरे किया जाता है। मरीज करीब 150 के आसपास आते हैं लेकिन शनिवार को बिजली कटौती के कारण सिर्फ 20 मरीजों के ही एक्सरे हो पाए। यानि 80 से ज्यादा रोगियों को निराश लौटना पड़ा। अब जो रोगी निराश लौटे है तो वे रविवार को जाएंगे। लेकिन रविवार को अवकाश होने के कारण महज 9 से 11 बजे दो घंटे ही अस्पताल खुलेगा। ऐसे में रविवार को एक्सरे विभाग पर जबरदस्त दबाव रहेगा। अस्पताल में बिजली कटौती के कारण मरीजों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है।

3 फेस का लोड चाहिए


X
साढ़े 3 घंटे बिजली कटौती से ऑपरेशन टला, एक्सरे, सोनोग्राफी की जांचें भी ठप
Astrology

Recommended

Click to listen..